किसने सबसे पहले नापी पूरी दुनिया, कहां होता है समुद्र का दूसरा छोर

img

हमारी दुनिया के बारे में कई ऐसी बातें हैं जो हमारे जहन में इस कदर बस गई हैं कि हम उनके बारे में कभी सवाल नहीं करते। हम मान लेते हैं कि जो हम जानते हैं वो सही होगा, लेकिन ऐसा जरूरी नहीं। दुनिया से जुड़े तथ्यों के बारे में लिखने वाले वैज्ञानिक मैट ब्राउन अपनी किताब 'एवरीथिंग यू नियू अबाउट प्लानेट अर्थ इज रॉन्गÓ (धरती के बारे में जो भी आप जानते हैं वो गलत है) में ऐसी कुछ बातों का जिक्र करते हैं जो आपको अपनी जानकारी पर सवाल करने के लिए बाध्य कर देते हैं। उन्होंने दुनिया के बारे में बीबीसी के साथ चार रोचक बातें साझा की। जमीन, समुद्र तट, ताकत और व्यवसाय को लेकर आपस में लडऩे वाले देशों के बीच पृथ्वी पर कई जगह 'नो मैन्स लैंडÓ होने की जानकारी आपको होगी। अंतरराष्ट्रीय कानून के अनुसार ये दो देशों की सीमाओं के बीच का खाली इलाका होता है जिसे कोई भी देश कानूनी तौर पर नियंत्रित नहीं करता है। हालांकि इस पर कानूनी दावा किया जा सकता है। लेकिन अफ्रीका में एक जगह है जिस पर कोई भी देश अपना अधिकार नहीं चाहता। बीर ताविल नाम का ये इलाका 2,060 वर्ग किलोमीटर का है और मिस्र और सूडान की सीमाओं के बीच है। ये इलाका 20वीं सदी की शुरुआत में अस्तित्व में आया जब मिस्र और सूडान ने अपनी सीमाएं कुछ इस तरह से बनाईं कि ये इलाका दोनों में से किसी का भी नहीं रहा। बीर ताविल सूखाग्रस्त इलाका है और यहां की जमीन बंजर है। लिहाजा इस पर दावा कोई नहीं करना चाहता। लेकिन इस इलाके ने कई लोगों को अपनी तरफ आकर्षित भी किया है। 2014 में अमरीका के वर्जीनिया के एक किसान ने यहां एक झंडा लगा कर खुद को 'उत्तरी सूडान के राज्यÓ का गवर्नर घोषित कर दिया। उनकी चाहते थे कि उनकी बेटी राजकुमारी बने।
 

whatsapp mail