महिंद्रा इलेक्ट्रिक ने थ्री-व्हील्स यूनाइटेड के साथ समझौता-पत्र पर हस्ताक्षर किया

img

बेंगलुरू
महिंद्रा इलेक्ट्रिक मोबिलिटी लिमिटेड, जो 20.7 बिलियन अमेरिकी डॉलर वाले महिंद्रा समूह का घटक है और भारत में इलेक्ट्रिक मोबिलिटी लाने में अग्रणी है, ने हाल ही में थ्री व्हीलर्स यूनाइटेड (टीडब्ल्यूयू) के साथ समझौता-पत्र पर हस्ताक्षर किया। टीडब्ल्यूयू, एक सामाजिक उद्यम है जो ऑटो रिक्शा चालकों को किफायती वित्तपोषण सुविधा उपलब्ध कराता है और उन्हें सार्वजनिक परिवहन के साथ जोड़ता है। ऑटो डे 2018 समारोह के दौरान कई वरिष्ठ पदाधिकारियों एवं गणमान्य लोगों की मौजूदगी में इस समझौता-पत्र पर हस्ताक्षर किया गया। यह कार्यक्रम एक वार्षिक प्रोपर्टी है, जिसे टीडब्ल्यूयू द्वारा आयोजित किया जाता है और इसमें लगभग 5,000 ऑटो ड्राइवर्स जुटते हैं। इस वर्ष, बेंगलुरू, चित्रदुर्ग और पॉन्डिचेरी के ड्राइवर्स ने हिस्सा लिया। इस समझौता-पत्र के तहत, महिंद्रा इलेक्ट्रिक और टीडब्ल्यूयू भारत में विद्युत-चालित तीपहिया वाहनों को उपयोग में लाने की गति को अधिक बढ़ाने के लिए साथ मिलकर काम करेगा। इसके तहत, ऑटो ड्राइवर्स की पहचान की जायेगी और उनका वित्तपोषण किया जायेगा, ताकि अगले वर्ष तक देश भर में 2000 महिंद्रा ट्रियो सड़क पर उतारे जा सकें। इस समझौता-पत्र में टीडब्ल्यूयू द्वारा प्रयोग किये जाने के लिए पसंदीदा मोबिलिटी समाधान के रूप में महिंद्रा के नेमो (नेक्स्ट जेनरेशन मोबिलिटी समाधान) के उपयोग को भी रेखांकित किया गया है। इस अवसर पर, महिंद्रा इलेक्ट्रिक के मुख्य कार्यकारी अधिकारी, महेश बाबू ने कहा, विद्युत-चालित वाहन में अग्रणी होने के नाते, हमें थ्री व्हीलर्स यूनाइटेड के साथ सहयोग करने की खुशी है, ताकि हमें महिंद्रा ट्रियो को तेज गति से उपयोग में लाने में मदद मिलेगी। भारत के पहले लिथियम-ऑयन बैटरी पर निर्मित, थ्री-व्हीलर प्लेटफॉर्म के साथ, हमें भरोसा है कि ट्रियो के आ जाने से शहरी भारत में आवागमन के तरीके में बदलाव आयेगा। इस तरह के सहयोगियों के साथ गठबंधन से ड्राइवर्स के लिए विद्युत-चालित वाहनों को अपनाने में मदद मिलेगी। और हमारे शहर अधिक इको-फ्रेंड्ली हो सकेंगे। थ्री व्हीलर्स यूनाइटेड के मुख्य कार्यकारी अधिकारी, सेड्रिक ट्रैंडोंग ने बताया, थ्री व्हीलर्स यूनाइटेड मोबिलिटी के भविष्य में महिंद्रा इलेक्ट्रिक के साथ इस सफर को शुरू करने को लेकर उत्साहित है। हमने हमेशा से ड्राइवर्स को प्राथमिकता दी है और हमें उम्मीद है कि कम प्रदूषक, पैसा बचतकारी, अधिक आरामदायक ट्रियो ऑटो रिक्शा के उपयोग को प्रोत्साहन देते हुए हम इस प्रवृत्ति को जारी रख सकेंगे। हम इन ड्राइवर्स को किफायती लोन प्रदान करेंगे और इस तरह की तकनीक का उपयोग करेंगे ताकि टिकाऊ परिवहन को बढ़ावा देते हुए अधिक कमाई हो सके। हम इसे न केवल बेंगलुरू में करना चाहते हैं बल्कि पूरे भारत में इसे लाना चाहते हैं और अगले तीन वर्षों में 12,000 वाहनों को तैनात करने की इच्छा रखते हैं।
विद्युत-चालित तिपहिया वाहनों की ट्रियो रेंज, महिंद्रा इलेक्ट्रिक के घरेलू रूप से तैयार किये गये पावरट्रेन एवं मेंटनेंस फ्री लिथियम ऑयन बैट्री को उपयोग में लाता है। इसके वैरिएंट्स में ट्रियो इलेक्ट्रिक ऑटो और ट्रियो यात्री इलेक्ट्रिक रिक्शा शामिल हैं, दोनों ही इंडस्ट्री में पहले हार्ड टॉप वेदर प्रूफ वैरियंट्स के रूप में उपलब्ध हैं। अत्यंत हल्की तकनीकों एवं कंपोजिट बॉडी पैनल्स के उपयोग के साथ, यह ट्रियो 170 किमी (ई-ऑटो) की प्रामाणिक रेंज का दावा करता है। ट्रियो वाहनों का पहला ऐसा रेंज है जो कनेक्टेड वाहन सुविधाएं उपलब्ध कराता है। यह यात्रियों के लिए सर्वोत्तम कोटि का आराम प्रदान करता है, जिसके इंटेरियर्स भरपूर जगह वाले हैं, और ड्राइवर्स के लिए क्लच-लेस, नॉयजलेस और वाइब्रेशन-फ्री ड्राइव है, जिससे सफर के दौरान होने वाली संपूर्ण थकान दूर होती है। 

whatsapp mail