बजाज ऑटो लिमिटेड ने द वल्र्डस फ़ेवरेट इंडियन के रूप में अपने ब्रांड की नई पहचान पेश की

img

नई दिल्ली
भारत की प्रमुख ऑटोमोबाइल कंपनी, बजाज ऑटो लिमिटेड ने केवल 17 वर्षों के समय में एक घरेलू स्कूटर बनाने वाली कंपनी से मोटरसाइकिलों का निर्माण करनेवाली एक बड़ी विश्व स्तरीय कंपनी बनने के अपने आश्चर्यजनक परिवर्तन की घोषणा करने के लिए द वल्र्ड्स फेवरेट इंडियन के रूप में आज अपनी एक नई पहचान जारी की। 2001 में अपने चाकन प्लांट से पल्सर को पेश करने के साथ ही इस आकर्षक विश्व-स्तरीय सवारी का आग़ाज़ हो गया था। पल्सर उद्यमशीलता की भावना से प्रेरित थी; यह मौजूदा बाज़ारों को बिना किसी कल्पनात्मकता के सेवा प्रदान करते रहने के बजाय नाटकीय रूप से नए बाज़ार स्थापित करने की तलाश कर रहे बिंदास विभेदन का प्रतीक है। परिवहन के भरोसेमंद और विश्वसनीय समाधान प्रदान करने के अपने हमारा बजाज वाले मूल सिद्धांतों पर आधारित इस कंपनी ने ऐसी मोटरसाइकिलों को डिज़ाइन करने के लिए प्रौद्योगिकी और अभिनवता में बड़ी मात्रा में निवेश किया है जो न केवल भारत में बल्कि दुनिया भर के 70 देशों में पसंद की जाती हैं। 3 में से 2 बाइकों पर बजाज का नाम होने के साथ यह भारत की नंबर 1 मोटरसाइकिल निर्यातक कंपनी बन गयी है। इस कंपनी का 40% राजस्व अंतर्राष्ट्रीय बाज़ारों से आ रहा है। इसने पिछले 10 वर्षों में 13 बिलियन अमरीकी डॉलर की विदेशी मुद्रा अर्जित की है और 2018 में अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में 2 मिलियन युनिट्स बेचने की उपलब्धि हासिल की है। 70 से अधिक देशों में 15 मिलियन मोटरसाइकिलों की बिक्री के साथ, बजाज ऑटो ने सरकार के मेक इन इंडिया के लक्ष्य के लिए एक उल्लेखनीय आयाम निर्धारित किया है। रूस और मलेशिया से लेकर अर्जेंटीना और मैक्सिको तक विस्तृत उपलब्धता और ग्राहक वरीयता के कारण, ग्राहक खरीद मूल्य के संदर्भ में यह आज संभवत: सबसे बड़ा भारतीय ब्रांड है। असल में ये आँकड़े एक ऐसी लोकप्रियता का सत्यापन करते हैं जो भारतीय गौरव के कई अन्य प्रतीकों की तुलना में कहीं अधिक विस्तृत और गहरी है, चाहे व: व्यंजन, मनोरंजन या खिलाडिय़ों के मामले में हो। बिल्कुल सही तौर पर, बजाज ऑटो बजाज इस परिवर्तन की नई पहचान - द वर्ल्ड्स फेवरेट इंडियन की घोषणा करते हुए हर्ष अनुभव कर रही है। इस क़ामयाबी भरे सफऱ के बारे में बोलते हुए, प्रबंध निदेशक, राजीव बजाज ने कहा, हमारा अंतर्राष्ट्रीय प्रदर्शन हमारी एकाग्रता और विभेदन की रणनीति का सत्यापन करता है। डिजाइन, प्रौद्योगिकी, गुणवत्ता और ग्राहकों की संतुष्टि से प्रेरित दुनियाभर में सबसे अच्छी मोटरसाइकिल बनाने के प्रति हमारी निरंतर प्रतिबद्धता ने हमें सचमुच में एक वैश्विक ब्रांड बना दिया है। बजाज का ब्रांड न केवल द वर्ल्ड्स फ़ेवरिट इंडियन ही नहीं है, बल्कि भारत सरकार के मेक इन इंडिया अभियान का शायद सबसे शानदार संदेशवाहक भी है। उन्होंने कहा, "पल्सर के बाज़ार में उतारे जाने के बाद से केवल 17 वर्षों में, लंबे समय से अग्रणी रहे अनेक जापानी और यूरोपीय ब्रांड्स को पीछे छोड़कर हम दुनिया के तीसरे सबसे बड़े मोटरसाइकिल निर्माता बन गए हैं। पूरी दुनिया के किसी भी देश में, जब लोग मोटरसाइकिल के बारे में सोचें, तो उनके मन में बजाज का ही खय़ाल आना चाहिए। इससे हमें एक वैश्विक मोटरसाइकिल विशेषज्ञ बनने के हमारे उद्देश्य को प्राप्त करने में मदद मिलेगी। इस ब्रांड की नई पहचान को टीवी, आउटडोर, प्रिंट और डिजिटल मीडिया जैसे शक्तिशाली मार्केटिंग अभियान के माध्यम से प्रसारित किया जायेगा। बजाज ऑटो मोटरसाइकिल और व्यावसायिक वाहनों के रीटेल शोरूम द वर्ल्ड्स फेवरेट इंडियन के संदेश के अनुरूप नए रूप और ब्रांडिंग के साथ परिवर्तित किए जायेंगे। 

whatsapp mail