होंडा एक्टिवा में नई टेक्नोलॉजी से बढ़ेगा 10 फीसदी माइलेज

img

नई दिल्ली
होंडा एक्टिवा सबसे ज्यादा बिकने वाला स्कूटर है और इसका मुख्य कारण इसकी सादगी और परफॉर्मेंस है। अगर आपके होंडा एक्टिवा का माइलेज पहले से और बढ़ जाए तो कैसा होगा। दरअसल होंडा 2व्हीलर्स एक ऐसी टेक्नोलॉजी पर काम कर रही है, जिससे एक इंजेक्शन पर आपके स्कूटर की माइलेज 10 फीसद तक बढ़ जाएगी। अगर कंपनी इस पर कामयाब हुई तो भारत में सबसे ज्यादा बिकने वाले टू-व्हीलर का माइलेज पहले से और बढ़ जाएगा। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार जापान की दिग्गज टू-व्हीलर निर्माता कंपनी ने 110सीसी और 125सीसी इंजन के लिए फ्यूल एफिशियंसी पर काम करना शुरू कर दिया है और इसे बीएस-6 के अनुरूप बनाया जा रहा है। कंपनी का लक्ष्य है कि भारत स्टेज टेक्नोलॉजी के बदलाव के साथ ही माइलेज में 10 फीसद इजाफा करना भी है। कंपनी मल्टी फ्यूल इंजेक्शन सिस्टम पर काम कर रही है जिससे फ्यूल इंजेक्ट करते समय उसकी मात्रा नियंत्रित की जा सकेगी।
बता दें, इसमें हर सिलेंडर में फ्यूल सप्लाई के लिए कई इंजेक्टर होते हैं। फ्यूल इंजेक्शन दो प्रकार - डी-एमपीएफआई और आई-एमपीएफआई के होते हैं। डी-एमपीएफआई में सिलेंडर पहले हवा लेता है जिसको वह ईसीयू (इलेक्ट्रॉनिक कंट्रोल यूनिट) को भेजता है और फिर इंजन से जुड़ा आरपी सेंसर भी ईसीयू को सिग्नल देता है। इसके बाद ईसीयू इंजेक्टर को गैसोलीन को इंजेक्ट करने के लिए सिग्नल भेजता है। बता दें, इस टेक्नोलॉजी को ऑटोमोबाइल की बेहतरीन टेक्नोलॉजी माना जाता है। एक्टिवा है सबसे ज्यादा बिकने वाला टू-व्हीलर अक्टूबर महीने में होंडा एक्टिवा ने दो करोड़ के आंकड़े को पार किया था और इससे यह देश का सबसे ज्यादा बिकने वाला टू-व्हीलर भी बन गया। इस मामले में एक्टिवा ने हीरो स्प्लेंडर तक को पछाड़ दिया।

whatsapp mail