इलेक्रामा 2020: नए बिजली युग का विकास

img

नई दिल्ली
भारतीय इलेक्ट्रिकल एवं इलेक्ट्रॉनिक्स विनिर्माता संघ (आईईईएमए) के प्रमुख कार्यक्रम इलेक्रामा के 14वें संस्करण- इलेक्रामा 2020 की आधिकारिक घोषणा कर दी गई है। हाल के वर्षों में राष्ट्र ने तेज रफ्तार से आर्थिक वृद्धि दर्ज की है और वह बिजली का उत्पादन करने के लिए जीवाश्म ईंधनों के इस्तेमाल के स्थान पर नवीकरणीय स्रोत इस्तेमाल करने की दिशा में तेजी से बढ़ रहा है।
इलेक्रामा 2020 के अध्यक्ष अनिल साबू ने कहा, 'इलेक्रामा बिजली के क्षेत्र में भारतीय उद्योगों, एसएमई और स्टार्टअप्स के लिए अंतर्राष्ट्रीय सम्पर्क है तथा यह उच्च गुणवत्ता वाले, नवोन्मेशी और प्रतिस्पर्धी उत्पादों के विनिर्माता के तौर पर भारत के सामथ्र्य का प्रर्दशन है। इलेक्रामा 2020 के तहत, 140 देशों के 650 अंतर्राष्ट्रीय खरीददारों की मेजबानी की जाएगी, जो न केवल नवीनतम प्रौद्योगिकीय उन्नति, बल्कि विश्व में 5वीं विशालतम अर्थव्यवस्था के तौर पर भारत की प्रगति के भी साक्षी बनेंगे।'' इस आयोजन के कार्यक्रम और विषय की घोषणा करते हुए आईईईएमए के अध्यक्ष हरीश अग्रवाल ने कहा, ''यह उद्योग मेक इन इंडिया और वर्ष 2022 तक सबके लिए 24.7 बिजली जैसी सरकार की पहलों से सम्बद्ध है। यह उद्योग इलेक्रामा 2020 के दौरान आर्टिफिशियल इंटेलिजेन्स, मशीन लर्निंग, ब्लॉक चेन से संबंधित समाधानों और बिजली के यंत्रों, उपकरणों, मशीनरी के विनिर्माण में नवाचार और ऊर्जा दक्षता कार्यक्रमों के मिश्रण को प्रदर्शित करेगा।'' इस विशाल कार्यक्रम का आयोजन 18 जनवरी से 22 जनवरी, 2020 तक इंडिया एक्सपो मार्ट, ग्रेटर नोएडा में किया जाएगा। यह प्रदर्शनी 110,000 वर्गमीटर के दायरे में फैले प्रदर्शनी क्षेत्र के विशेष मंडपों, सम्मेलनों और संकल्पनाओं से युक्त 12,000 वर्गमीटर क्षेत्र में लगाई जाएगी, जिससे दुनिया भर के ईकोसिस्टम प्लेयर्स को पूर्ण रूप से हितकारी अनुभव उपलब्ध होगा। इस साल की प्रदर्शनी का विशय बिजली के नए युग का विकास होगा। इलेक्रामा का यह संस्करण नई संभावनाओं की तलाश और उन्हें प्राप्त करने में जुटे सभी लोगों के लिए उत्साहजनक अवसर होगा। इस कार्यक्रम से प्राप्त की जा सकने वाली संभावनाएं अकल्पनीय हैं। आईईईएमए के प्रमुख कार्यक्रम इलेक्रामा के पिछले संस्करण के दौरान 298,0000 से अधिक आगंतुक आए और बिजली और इलेक्ट्रॉनिक्स के विनिर्माताओं की विशालतम प्रदर्शनी के दौरान 1,200 से अधिक प्रदर्शकों ने अपने उत्पाद और सेवाएं प्रदर्शित कीं। इस प्रदर्शनी में अनुमानित तौर पर कारोबार संबंधी पूछताछ अथवा 1 बिलियन अमेरिकन डॉलर से अधिक रहा और 120 से ज्यादा देशों के आंगतुकों ने भारत और अंतर्राष्ट्रीय जगत में हो रहे महत्वपूर्ण प्रगति को अनुभव किया।
उत्पादों और संघटकों की सोर्सिंग के लिए भारतीय इलेक्ट्रिकल उपकरण की उभरती वैश्विक साख के साथ, हम निकट भविष्य में निर्यात के अपने वैश्विक योगदान को 1 प्रतिशत से बढ़ाकर 5 प्रतिशत करना चाहते हैं। इलेक्रामा के 14वें संस्करण में 60 से ज्यादा देशों के प्रदर्षक भाग लेंगे और 120 से ज्यादा देशों से आगंतुक इसमें शिरकत करेंगे।

whatsapp mail