रिलेक्सो ने डॉ श्रॉफ चैरिटी आई हॉस्पिटल के सहयोग से लॉन्च की सीएसआर परियोजना ‘नयन’

img

जयपुर
बेहतर समाज के निर्माण की दिशा में एक कदम और बढ़ाते हुए रिलेक्सो फुटवियर्स ने डॉ श्रॉफ़ चैरिटी आई हॉस्पिटल के सहयोग से तापुकारा गांव के विजऩ सेंटर में अपनी सीएसआर परियोजना ‘नयन’ का उद्घाटन किया। इस मौके पर अलवर के डीएम श्री इन्द्रजीत सिंह माननीय मुख्य अतिथि थे तथा रिलेक्सो फाउन्डेशन के प्रेज़ीडेन्ट श्री रमेश कुमार दुआ भी मौजूद थे। यह परियोजना तिजारा ब्लॉक के 187 गांवों में 2.5 लाख से अधिक लोगों को प्राइमरी से सैकण्डरी स्तर की व्यापक एवं गुणवत्तापूर्ण आईकेयर सुविधाएं मुहैया कराएगी। इस मौके पर कई वरिष्ठ सरकारी अधिकारी जैसे सीडीपीओ, बीडीओ, एमओआईसी, तापुकारा तथा सीएमओ, सरपंच, आशा/एएनएम एवं सरकारी स्कूल के अध्यापक और परियोजना के लाभार्थी भी मौजूद थे। इस मौके पर श्री रमेश कुमार दुआ ने कहा, ‘‘हमें खुशी है कि वरिष्ठ सरकारी अधिकारियों और स्थानीय लोगों ने समाज के सकारात्मक स्वास्थ्य की दिशा में हमारी इस पहल को सफल बनाने में अपना योगदान दिया है। हम डॉ श्रॉफ चैरिटी आई हॉस्पिटल के प्रयासों के प्रति भी आभारी हैं जिन्होंने लोगों को गुणवत्तापूर्ण आई केयर सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए रिलेक्सो फाउन्डेशन के साथ हाथ मिलाएं हैं। आने वाले समय में हम समाज कल्याण के लिए ऐसी कई पहलों का आयोजन करेंगे। यह दीर्घकालिक परियोजना समाज के वंचित समुदायों को उत्कृष्ट स्वास्थ्य सेवाएं प्रदान करेगी और समय पर नेत्र रोगों की पहचान कर ऐसे अंधेपन को रोकने में मदद करेगी जिसे समय पर इलाज के द्वारा रोका जा सकता है। विजऩ 2020 के लक्ष्यों के अनुरूप समय पर नेत्र रोगों की पहचान कर इनका इलाज करना इस परियोजना का उद्देश्य है। परियोजना सभी हितधारकों जैसे स्कूली अध्यापकों, एएनएम/ आशा कर्मचारियों एवं स्थानीय प्रतिनिधियों को अपने साथ जोडक़र आई केयर के क्षेत्र में निवारक एवं उपचारात्मक स्वास्थ्यसेवाएं मुहैया कराएगी। गांव में नियमित नेत्र जांच शिविरों के आयोजन के साथ परियोजना तापुकारा गांव में एक विजऩ सेंटर भी स्थापित करेगी, जिसका प्रबंधन एक स्थानीय व्यक्ति के द्वारा किया जाएगा जिसे एससीईएच द्वारा प्रशिक्षित किया जाएगा। परियेाजना के तहत अध्यापकों एवं एएनएम/ आशा कर्मचारियों को प्राथमिक स्तर की स्क्रीनिंग के लिए प्रशिक्षण दिया जाएगा, ताकि नेत्र रोगों की समय पर पहचान कर इनका इलाज किया जा सके। अगर किसी मामले में सर्जरी की ज़रूरत हो तो आवश्यक सहयोग प्रदान किया जाएगा।

whatsapp mail