जहां-जहां गए प्रभु श्रीराम, वहां के दर्शन कराएगी यह ट्रेन 

img

पूरे देश सहित श्रीलंका में जहां-जहां प्रभु श्रीराम के चरण पड़े, उन जगह के दर्शन करना अब आसान हो गया है। भारतीय रेलवे और इंडियन कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉर्पोरेशन (आईआरसीटीसी) 14 नवंबर से एक विशेष ट्रेन को शुरू करने जा रहे हैं। यह ट्रेन भारत में चलेगी और यात्री चाहें तो श्रीलंका में भी जाकर के घूम सकते हैं। हालांकि श्रीलंका जाने के लिए एकमात्र विकल्प हवाई सफर है, जिसके लोगों को अलग से पैसा खर्च करना पड़ेगा। रेलवे ने इस ट्रेन का नाम श्री रामायण एक्सप्रेस रखा है। ट्रेन अपना पूरा सफर 16 दिन में पूरा करेगी। इसके लिए यात्रियों को प्रति यात्री 15120 रुपये खर्च करने होंगे। वहीं श्रीलंका के लिए यात्रियों को 36970 रुपये प्रति यात्री खर्च करने होंगे। इस विशेष ट्रेन का सफर 14 नवंबर को दिल्ली के सफदरजंग रेलवे स्टेशन से शुरू होगा। सबसे पहले ट्रेन अयोध्या जाएगी। अयोध्या में हनुमान गढ़ी-रामकोट-कनक भवन मंदिर के दर्शन होंगे। ट्रेन रामायण सर्किट के महत्वपूर्ण स्थलों जैसे नंदीग्राम, सीतामढ़ी, जनकपुर, वाराणसी, प्रयाग, श्रृंगपुर, चित्रकूट, नासिक, हम्पी और रामेश्वरम को कवर करेगी। टूर पैकेज में धर्मशालाओं में भोजन, आवास, दर्शनीय-स्थलों की सैर की व्यवस्था होगी। अगर यात्री इसके बाद श्रीलंका जाना चाहते हैं तो उनको अलग से शुल्क देना होगा। 5 रात और 6 दिन के इस सफर में यात्रियों को कैंडी, नुवारा एलिया, कोलंबो और नेगोंबो जैसे गंतव्य शामिल होंगे। इसके लिए यात्रियों को चेन्नई या फिर रामेश्वरम से उड़ान लेनी होगी। यात्रा के दौरान आईआरसीटीसी की तरफ से टूर मैनेजर साथ में रहेंगे। 

whatsapp mail