होम क्रेडिट इंडिया ने फाइनेंस इंडस्ट्री में साइबर फ्रॉड से निपटने के लिए बूंदी पुलिस से किया गठजोड़

img

शहर में साइबर अपराध और वित्तीय धोखाधड़ी पर लगाम के लिए पुलिस की मदद करने के लक्ष्य के साथ किया गठजोड़

बूंदी
भारत की सबसे तेजी से बढ़ती नॉन बैंकिंग फाइनेंस कंपनी में शुमार और चेक गणराज्य के होम क्रेडिट ग्रूप की अनुषंगी होम क्रेडिट इंडिया ने बूंदी पुलिस के साथ मिलकर आज साइबर धोखाधड़ी विशेष तौर पर फाइनेंस इंडस्ट्री में होने वाली धोखाधड़ी से निपटने के लिए जरूरी नवीनतम ट्रेंड और कौशल मुहैया कराने के लिए अनोखी पहल की घोषणा की है। इस पहल का लक्ष्य वित्तीय धोखाधड़ी और साइबर अपराध की जांच कर रहे, जांच अधिकारियों के साथ जानकारियां साझा करते हुए पुलिस की सहायता करना है।
कार्यक्रम का आयोजन कोटा सिटी के पुलिस महानिरीक्षक श्री बिपिन कुमार पांडे और होम क्रेडिट इंडिया के सिक्योरिटी प्रमुख श्री मनीष कौशिक की उपस्थिति में किया गया। इस दौरान बूंदी शहर की पुलिस अधीक्षक ममता गुप्ता, कोटा शहर के पुलिस अधीक्षक श्री दीपक भार्गव और बूंदी व कोटा के पुलिस अधीक्षक (एंटी करप्शन ब्यूरो) श्री सुधीर चौधरी भी उपस्थित रहे। बूंदी नौंवां शहर है जहां इस पहल की शुरुआत की गई है; इससे पहले गुरुग्राम, अंबाला, मेहसाणा, भोपाल, विशाखापटनम, कोटा, फरीदाबाद और चंडीगढ़ में इसे सफलतापूर्वक शुरु किया जा चुका है। होम क्रेडिट इंडिया की इस पहल का स्वागत करते हुए कोटा सिटी के पुलिस महानिरीक्षक बिपिन कुमार पांडे ने कहा, साइबर स्टॉकिंग, वेब जैकिंग, ऑनलाइन डाटा चोरी, वायरस के बढ़ते मामले व्यक्तिगत तौर पर लोगों के साथ-साथ सरकारी और निजी संगठनों के लिए भी बड़ा खतरा बन रहे हैं। इस परिस्थिति में प्रभावी साइबर क्राइम मैनेजमेंट स्ट्रेटजी के जरिये साइबर हमलों को पहचानने और रोकने में मदद मिल सकती है। एक महत्वपूर्ण कदम के रूप में हम अपने नागरिकों को एक सुरक्षित और सुगम प्लेटफॉर्म मुहैया कराना चाहते हैं, जो ऑनलाइन बैंकिंग की टेक्नोलॉजी से लैस है; ऐसा करते हुए हम उन्हें वित्तीय धोखाधड़ी व साइबर अपराधों से बचा सकेंगे। होम क्रेडिट इंडिया के साथ हमारा गठजोड़ शहर में धोखाधड़ी को लेकर जागरूकता फैेलाने और साइबर अपराधों को कम करने में अहम भूमिका निभाएगा। होम क्रेडिट इंडिया साइबर क्राइम, साइबर बुलिंग, ऑनलाइन व फाइनेंशियल फ्रॉड से बचाव से संबंधित मुद्दों, आवश्यक कदमों और चुनौतियों को लेकर पुलिस अधिकारियों के साथ शेयरिंग सेशन का आयोजन करती है। इन सत्रों में केस स्टडी और रेफरेंस मैटेरियल के जरिये मौजूदा ट्रेंड की जानकारी दी जाती है। इस मौके पर होम क्रेडिट इंडिया के सिक्योरिटी प्रमुख श्री मनीष कौशिक ने कहा, इस पहल के लिए बूंदी पुलिस से जुडऩे का हमें गर्व है। साइबर धोखाधड़ी को लेकर जागरूकता की पहल के साथ हमारा मानना है कि इस अभियान के जरिये पुलिस कर्मी और प्रवर्तन एजेंसियां साइबर धोखाधड़ी के नए ट्रेंड उनसे निपटने के लिए जरूरी कुशलता से परिचित हो सकेंगे। समाज में प्रभावी और सतत जागरूकता के लिए बेहतर माहौल बनाने की दिशा में पुलिस कर्मियों के साथ मिलकर काम करना हमारे लिए सम्मान की बात है।

whatsapp mail