मैरिको ने राज्य सरकार के साथ किया एमओयू

img

जयपुर
मैरिको लिमिटेड ने अपने फ्लैगशिप अभियान - निहार शांति पाठशाला फनवाला के तहत टीचर्स ट्रेनिंग प्रोग्राम के लॉन्च के लिए राजस्थान सरकार के साथ समझौतापत्र (एमओयू) पर हस्ताक्षर किया। बच्चों की शिक्षा एवं प्रगति सुनिश्चित करने की ब्रांड की प्रतिबद्धता को आगे बढ़ाते हुए, यह अभियान सरकारी स्कूल के टीचर्स को प्रभावशाली एवं इनोवेटिव टीचिंग पद्धति प्रदान करेगा और वो अपने-अपने समुदायों में बच्चों को इंग्लिश भाषा में इंग्लिश एवं अन्य विषय पढ़ा सकेंगे। बाल दिवस के अवसर पर यह एमओयू मिस प्रियंका पुरी, जो मैरिको लिमिटेड पर एजुकेशन सीएसआर अभियानों की अध्यक्षता करती हैं तथा अभिषेक भागोतिया, एसपीडी (एसएमएसए), राजस्थान सरकार द्वारा शिक्षामंत्री एवं अन्य गणमान्य लोगों की मौजूदगी में साईन किया गया। इस प्रोग्राम द्वारा यह ब्रांड टीचर्स को समर्थ बनाने का प्रयास करता है, जो अद्वितीय तरीके से इंग्लिश भाषा का प्रशिक्षण प्रदान करते हैं, ताकि बच्चे इंग्लिश में शब्द एवं वाक्य स्वयं बनाने में समर्थ हो सकें। हमारा उद्देश्य 10,000 से ज्यादा बच्चों को लाभान्वित करना है। यह कार्यक्रम जिले में 100 से ज्यादा सरकारी स्कूल टीचर्स तक पहुंचेगा तथा उन्हें इंग्लिश भाषा पढ़ाने की अद्वितीय विधियों का प्रशिक्षण देगा एवं आवश्यक सामग्री प्रदान करेगा। इसके अलावा यह इस अभियान के तहत बच्चों को अध्ययन सामग्री नि:शुल्क प्रदान करेगा एवं स्कूलों को ट्रेनिंग किट्स उपलब्ध कराएगा। यह टोल-फ्री नंबर द्वारा कभी भी एवं कहीं भी बेसिक इंग्लिश लैंग्वेज़ ट्रेनिंग की उपलब्धता सुनिश्चित करेगा। यह अभियान एक एनजीओ पार्टनर, लीप फॉर वर्ड के सहयोग से जयपुर, अलवर, दौसा, सीकर और झुंझनू जिलों में 5 महात्मा गांधी मीडियम सरकारी स्कूलों तथा अलवर जिले के किशनगढ़बस एवं रामगढ़ ब्लॉक्स के 96 माध्यमिक एवं उच्चतर माध्यमिक विद्यालयों में क्रियान्वित किया जाएगा। इस अभियान के बारे में, उदयराज प्रभु, हेड-सीएसआर, मैरिको लिमिटेड ने कहा, ''मैरिको के निहार शांति आमला ने सदैव बच्चों की शिक्षा के उद्देष्य में सहयोग किया है। राजस्थान सरकार के साथ यह सहयोग ग्रामीण भारत में गुणवत्तायुक्त शिक्षा प्रदान करने और लर्निंग के परिणाम सुधारने के लिए सरकार के सतत विकास के उद्देष्यों के अनुरूप है। हम समाज को लाभान्वित करने के लिए मिलकर काम करने में यकीन रखते हैं। इस अभियान का उद्देष्य सरकारी स्कूल के मौजूदा ढांचे को मजबूत करने में सहयोग करना और स्कूल के टीचर्स को टीचिंग की अद्वितीय पद्धति द्वारा सशक्त बनाना तथा 100 से ज्यादा स्कूलों के 10,000 से ज्यादा बच्चों को दीर्घकालिक लाभ प्रदान करना है। पिछले सात सालों में निहार शांति आमला कमजोर वर्ग के बच्चों को शिक्षा के अवसर प्रदान कर रहा है और अपना 5 प्रतिशत लाभ इस उद्देष्य के लिए समर्पित कर रहा है। बच्चों की शिक्षा में सहयोग करने के लिए ब्रांड ने निहार शांति पाठशाला फनवाला लॉन्च की, जो बच्चों को कभी भी व कहीं भी इंग्लिश स्पीकिंग निशुल्क सीखने में मदद करती है। निहार शांति पाठशाला फनवाला ने विशाल ग्रामीण आउटरीच प्रोग्राम्स का नेतृत्व किया है, जिससे 7500 से ज्यादा गांव लाभान्वित हुए हैं तथा पिछले साल इन गांवों से 3 लाख से ज्यादा बच्चों ने टोल-फ्री नंबर पर 10 लाख से ज्यादा कॉल्स कीं।

मैरिको लिमिटेड के विशय में:
मैरिको ;ठैम्रू 531642ए छैम्रू श्ड।त्प्ब्व्श्द्ध  वैष्विक ब्यूटी और वैलनेस के क्षेत्र में भारत की अग्रणी उपभोक्ता उत्पाद कंपनियों में से एक है। 2018-19 के दौरान, मैरिको ने भारत में एवं एषिया और अफ्रीका के चुनिंदा बाजारों में अपने बेचे गए उत्पादों से लगभग 73.3 बिलियन रूपये (1.05 बिलियन डॉलर) का टर्नओवर दर्ज किया। मैरिको का अपने ब्रांडों जैसे कि पैराशूट, पैराशूट एडवांस्ड, सफोला, सफोला फिटिफाई गूरमे, कोको सोल, हेयर एंड केयर, निहार, निहार नैचुरल्स, लिवॉन, सेट वेट, सेट वेट स्टूडियो एक्स, ट्रू रूट्स, काया यूथ ओ2, मेडिकर एवं रिवाइव के पोर्टफोलियो के माध्यम से हर 3 भारतीयों में से एक की जिंदगी में योगदान दिया है। पैराशूट, पैराशूट एडवांस्ड, हेयरकोड, फियांसी, काइविल, हक्र्यूलस, ब्लैक चिक, कोड 10, इंग्वी, एक्स-मेन, सिड्योर, थुआन फाट एवं आईसोप्लस जैसे ब्रांडों के साथ अंतर्राश्ट्रीय उपभोक्ता उत्पाद पोर्टफोलियो ग्रुप के राजस्व में लगभग 22 प्रतिशत का योगदान देता है।

whatsapp mail