सभी वीजा कार्ड धारकों के लिए क्रेडिट कार्ड पेमेंट्स

img

दिल्ली
भारत के सबसे बड़े डिजिटल फाइनेंसियल सर्विसेज प्लेटफॉर्म में से एक मोबिक्विक ने शुक्रवार को अपने ऐप पर ऑन-द-गो क्रेडिट कार्ड बिल पेमेंट लॉन्च करने की घोषणा की है। मोबिक्विक जारीकर्ता बैंक के अलावा, सभी वीजा क्रेडिट कार्डधारकों को यह पेमेंट सुविधा ऑफर करेगी। यह नई पेशकश 107 मिलियन से अधिक उपयोगकर्ताओं को बेहतरीन अनुभव प्रदान करेगी। मोबिक्विक इस सर्विस की सुविधा निकट भविष्य में अन्य क्रेडिट कार्ड ब्रांड में भी उपलब्ध कराएगी। मोबिक्विक अपनी नवीनतम पेशकश से भारत के बढ़ते क्रेडिट कार्ड बाजार तक पहुंच बनाने में सक्षम हो पाएगी। क्रेडिट कार्ड के उपयोग करने को लेकर शहरी भारतीय उपभोक्ताओं के बीच तेजी से वृद्धि हुई है और यह स्थिति मोबिक्विक के लिए विशाल अवसर प्रदान करती है। इस नई सर्विस से मोबिक्विक ऐप के मौजूदा कई यूज केस में एक और यूज केस जुड़ जाएगा। मार्च 2017 और मार्च 2018 के बीच, भारत में कुल 7.68 मिलियन क्रेडिट कार्ड जारी किए गए हैं। क्रेडिट कार्ड इंडस्ट्री के सूत्रों के अनुसार, अगले 4 वर्षों में 4 करोड़ से अधिक या 40 मिलियन नए कार्ड जारी किए जाने की उम्मीद है। रिजर्व बैंक के मुताबिक, भारतीय क्रेडिट कार्ड इंडस्ट्री सालाना 25त्न की दर से बढऩे को तैयार है। वित्तीय वर्ष 2017-18 में, कुल क्रेडिट कार्ड में से लगभग 33 मिलियन क्रेडिट से करीब रु. 45,000 करोड़ खर्च किया गया है। लॉन्च करने की घोषणा के अवसर पर बोलते हुए, मोबिक्विक के सह-संस्थापक और निदेशक सुश्री उपासना टाकू ने कहा, "हम यूज केस के सभी प्रकारों का पता लगाने और नवाचार के लिए प्रतिबद्ध हैं, ताकि डिजिटल पेमेंट को अपनाने के लिए उपयोगकर्ताओं की बढ़ती संख्या को सक्षम बनाया जा सके। पिछले कुछ वर्षों में, हमने उत्पादों और सेवाओं की एक विस्तृत श्रृंखला पेश की है जो भारतीय उपभोक्ता के लिए अनोखी, सुविधाजनक और बेहद प्रासंगिक हैं। हमारी ऑन-द-गो क्रेडिट कार्ड पेमेंट सर्विस, आज के उपयोगकर्ताओं के लिए बेहद आसान होगी, जो उन्हें बैंक या क्रेडिट कार्ड कंपनियों की वेबसाइट्स पर विजिट किए बिना, मोबिक्विक ऐप के माध्यम से अपने क्रेडिट कार्ड बिलों का तुरंत पेमेंट करने की सुविधा प्रदान करेगी। क्रेडिट कार्ड पेमेंट एक बड़ा अवसर प्रदान करता है और हमारा लक्ष्य क्रेडिट कार्ड व्यय बाजार के 3-5त्न मार्केट शेयर को हासिल करने यानि चालू वित्त वर्ष के अंत तक ? 1,200- 2,000 करोड़ प्राप्त करने का अवसर है। हम अपने पार्टनर के रूप में वीजा के साथ इस श्रेणी को शुरू कर रहे हैं और आने वाले समय में इसमें अन्य क्रेडिट कार्ड ब्रांड भी जोड़े जाएंगे। वीजा इंडिया के बिजनेस डेवलपमेंट प्रमुख श्री मुरली नायर ने बताया, "मोबिक्विक के साथ हमारा सहयोग, वीजा उपभोक्ताओं को उनके मोबाइल डिवाइस के माध्यम से डिजिटल ट्रांज़ैक्शन की सुविधा का आनंद लेने में मदद करता है। तेजी से बढ़ती इस डिजिटल दुनिया में, मोबिक्विक उपभोक्ताओं को अपने वीजा क्रेडिट कार्ड बिलों को निर्बाध रूप से पेमेंट करने की क्षमता प्रदान करती है। मोबिक्विक के बारे में मोबिक्विक भारत का सबसे बड़ा डिजिटल फाइनेंसियल सर्विसेज़ प्लेटफॉर्म, प्रमुख मोबाइल वॉलेट और मुख्य पेमेंट गेटवे है। मोबिक्विक ऐप 3 मिलियन से अधिक मर्चेंट और 260 मिलियन से अधिक उपयोगकर्ताओं वाले नेटवर्क के साथ मोबाइल पेमेंट का एक प्रमुख वॉलेट है। श्री बिपिन प्रीत सिंह और सुश्री उपासना टाकू द्वारा 2009 में स्थापित, कंपनी सिकोइया कैपिटल, अमेरिकन एक्सप्रेस, ट्री लाईन एशिया, मीडिया टेक, जीएमओ पेमेंट गेटवे, सिस्को इन्वेस्टमेन्ट्स नेट1 और बजाज फाइनेंस से चार बार वित्तपोषण जुटा चुकी है। कंपनी के नई दिल्ली, मुंबई, बेंगलुरु, पुणे और कोलकाता में कार्यालय हैं। मोबिक्विक भारत में डिजिटल ट्रांजैक्शन का सबसे बड़ा स्रोत बनना चाहती है। यह भारत में डिजिटल लेनदेन का सबसे बड़ा स्रोत बनकर 2022 तक डिजिटल भुगतान, लोन, बीमा और निवेश के लिए एकल टैप में एक्सेस देने के साथ अरबों भारतीयों को सशक्त बनाना चाहती है।

whatsapp mail