येस बैंक की राजस्थान सरकार के साथ साझेदारी, तत्काल डिजिटल भुगतान के लिए लॉन्च किया

img

मुंबई
भारत में निजी क्षेत्र के चौथे सबसे बड़े बैंक- येस बैंक ने भामाशाह वॉलेट लॉन्च करने के लिए राजस्थान सरकार के साथ साझेदारी की है- भामाशाह वॉलेट राजस्थान राज्य के लिए एक सरल और तत्काल भुगतान डिजिटल वॉलेट सॉल्यूशन है। राजस्थान सरकार की ऑनलाइन पेमेंट ऐप्लीकेशन- भामाशाह वॉलेट को राज्य की मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे ने लॉन्च किया। भामाशाह वॉलेट सेवाओं को राजस्थान सरकार की भामाशाह योजना के तहत लॉन्च किया गया है। इस योजना के अंतर्गत सरकारी योजनाओं के जरिए मिलने वाले वित्तीय और अन्य प्रकार के लाभों को पारदर्शी तरीके से सीधे महिला लाभार्थियों के खाते में ट्रांसफर किया जाता है। भामाशाह वॉलेट के माध्यम से अब सरकार लाभार्थियों को उपलब्ध कराए गए डिजिटल वॉलेट में निर्बाध तरीके से सीधे अनुदान और अन्य सहायता राशि ट्रांसफर कर सकेगी। भामाशाह वॉलेट की लॉन्च के अवसर पर येस बैंक के एमडी और सीईओ राणा कपूर ने कहा, लोगों के लिए डिजिटल पेमेंट सेवाएं लॉन्च करने में राजस्थान सरकार के साथ साझेदारी करते हुए येस बैंक को प्रसन्नता का अनुभव हो रहा है। सरकारी अनुदान राशि का वितरण आसानी से हो सकेगा और दूरदराज के इलाकों में रहने वाले लोगों को भी सरकारी वित्तीय सेवाओं का लाभ हासिल हो सकेगा। नई तकनीक पर आधारित कम खर्च वाले सॉल्यूशन विकसित करने और डिजिटल भारत की मुहिम को आगे बढाने के लिए येस बैंक पूरी तरह प्रतिबद्ध है।राजस्थान सरकार के आईटी और सी विभाग के प्रमुख सचिव अखिल अरोरा ने कहा, राजस्थान देश में सबसे बड़ा वित्तीय समावेशन और डीबीटी मॉडल बन गया है। भामाशाह वॉलेट के साथ हमने एक कदम और आगे बढाया है और अब हम राज्य के सभी नागरिकों को समस्त वित्तीय सेवाओं, लाभ हस्तांतरण और वॉलेट से जुडे फायदों को निशुल्क उपलब्ध करा रहे हैं। भामाशाह योजना के तहत पंजीकृत 56 मिलियन लाभार्थियों को इंस्टेंट बैंकिंग सर्विसेज उपलब्ध कराई जाएंगी; इन सेवाओं का उपयोग सिंगल आइडेंटिटी जैसे नाम, क्यूआर कोड, या मोबाइल नंबर के आधार पर पूरी तरह सुरक्षित तरीके से किया जा सकेगा। राज्य के प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण (डीबीटी) योजना से जुड़े होने के अलावा, वॉलेट का उद्देश्य वॉलेट-टू-वॉलेट और वॉलेट-टू-बैंक लेनदेन के माध्यम से व्यक्ति से व्यक्ति त्वरित गति से भुगतान को संभव बनाना है। ऐप 65,000 से अधिक ई-मित्र रिटेल आउटलेट (सामान्य सेवा केंद्र) और राजस्थान भुगतान पोर्टल, सर्विसिंग रिचार्ज, ट्रांसफर, केवाईसी और अन्य लेनदेन के लिए ग्राहकों की माइक्रो-पेमेंट से संबंधित जरूरतों के लिए उपलब्ध होगा। उपयोग संबंधी आसानी के लिए वर्तमान में ऐप एक द्विभाषी इंटरफेस में उपलब्ध है और यह एक निशुल्क डिजी-किट का हिस्सा है जिसे राजस्थान सरकार द्वारा ई-मित्र आउटलेट पर उपलब्ध कराया जा रहा है।

whatsapp mail