अडानी डिफेंस एंड एयरोस्पेस और एलबिट सिस्टम्स ने पहली प्राइवेट अनमैन्ड एरियल व्हीकल्स उत्पादन सुविधा का उद्घाटन किया

img

हैदराबाद
अडानी एलबिट अनमैन्ड एरियल व्हीकल्स कॉम्लेजारोक्स (यूएवी) का उद्घाटन आज तेलंगाना के माननीय गृहमंत्री श्री मोहम्मद महमूद अली ने किया। इस अवसर पर तेलंगाना राज्य में आईटी एवं उद्योग के प्रधान सचिव श्री जयेश रंजन, अडानी एंटरप्राइज लिमिटेड के निदेशक श्री प्रणव अडानी, अडानी पोर्ट्स एवं स्पेशल इकोनॉमिक ज़ोन के मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री करण अडानी और एलबिट सिस्टम्स के प्रेसिडेन्ट एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी श्री बेझालेल मचलिस उपस्थित हुए। 50000 वर्गफीट में फैली यह अत्याधुनिक सुविधा भारत की पहली यूएवी उत्पादन सुविधा होगी और इजराइल के बाहर पहली सुविधा होगी, जहाँ हर्मीस 900 मीडियम एल्टिट्यूड लॉन्ग एंड्यूरेन्स यूएवी का उत्पादन किया जाएगा। इस कारखाने के परिचालन की शुरूआत हर्मीस 900 और फिर हर्मीस 450 के लिये कम्पलीट कार्बन कम्पोजिट एयरो-स्ट्रक्चर्स के उत्पादन से होगी, जिससे वैश्विक बाजारों को लाभ होगा और आगे चलकर कम्पलीट यूएवी की असेम्बली और इंटीग्रेशन किया जाएगा। अडानी ग्रुप के चेयरमैन श्री गौतम अडानी ने कहा, ‘‘रक्षा और एयरोस्पेस में हमारा प्रवेश मेरे लिये व्यक्तिगत रूप से महत्व रखता है। मैं चाहता हूँ कि हम पीछे मुड़कर देखें कि अडानी ग्रुप ने भारत को आत्मनिर्भर बनाने में क्या योगदान दिया है- एक देश, जो रक्षा उत्पादन के मामले में किसी से पीछे नहीं है- एक देश, जो अपनी रक्षा खुद कर सकता है। एक भारतीय के तौर पर मेरे लिये इससे अच्छा क्या हो सकता है। यह भारत और इजराइल के बीच विश्वास भरे और रणनीतिक सम्बंधों के लिये मील का पत्थर है। अनमैन्ड एरियल व्हीकल्स के उत्पादन के लिये यह संयुक्त उपक्रम सुविधा हमारे देश और ‘‘मेक इन इंडिया’’ प्रोग्राम के लिये एलबिट की प्रतिबद्धता का प्रमाण है। भारत के लिये एलबिट सिस्टम्स की प्रतिबद्धता के बारे में एलबिट सिस्टम्स के प्रेसिडेन्ट एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी बेझालेल मचलिस ने कहा, ‘‘इस सुविधा में विश्व के सबसे उन्नत यूएवी सिस्टम्स हर्मीस 900 (मेल) और हर्मीस 450 का उत्पादन किया जाएगा, यह भारत सरकार की रणनीतिक योजना के अनुसार है और रक्षा प्रणालियों में हमारा गहन अनुभव साझा करती है और इसे भारत के समर्पित कार्यबल का लाभ मिलेगा। अडानी ग्रुप का उद्यमिता इतिहास बड़ा है और दशकों से वृद्धि पर आधारित है। अडानी ग्रुप के साथ अपने सम्बंधों पर हमें गर्व है और हम भारत में रक्षा पारिस्थितिकी के विकास में भागीदारी को लेकर तत्पार हैं। तेलंगाना के माननीय गृहमंत्री ने अडानी एलबिट यूएवी कॉम्लेकी कक्स के साथ अडानी एयरोस्पेस पार्क का उद्घाटन भी किया। अडानी ग्रुप ने जीवंत रक्षा उत्पादन पारिस्थितिकी साझा की, जिसका विकास भारत में मध्यम और छोटे उद्यमों में निवेश द्वारा किया गया है। अडानी डिफेंस एंड एयरोस्पेस ने अपने वैश्विक भागीदारों और भारत में एमएसएमई के माध्यम से विविधतापूर्ण क्षमता वाले एकीकृत समाधान का मिश्रण किया है, जैसे कॉम्प्रोटेक, ऑटो टीईसी, अल्फा टोकोल, और अल्फा डिजाइन टेक्नोलॉजीज। यह कंपनियाँ दशकों से भारतीय रक्षा पारिस्थितिकी और भारतीय सशस्त्र बलों को सहयोग प्रदान कर रही हैं और एचएएच, बीडीएल, बीईएल तथा ग्लोबल ओईएम की आपूर्तिकर्ता रही हैं।

whatsapp mail