फाडा ने दिसंबर’18 में वाहनों के रजिस्ट्रेशन का डेटा जारी किया

img

  • ऑटो की सेल्स अभी भी धीमी, लेकिन त्योहारों की मंदी के बाद प्रारंभिक सकारात्मक संकेत मिलने शुरु।
  • पिछले 15 दिनों में पर्सनल वेहिकल (पीवी) की सेल्स में वृद्धि, मांग बढ़ने के साथ नकारात्मक वृद्धि समाप्त।
  • टू-व्हीलर में माह दर माह नकारात्मक वृद्धि रही साल की दृष्टि से रिटेल सेल्स अभी भी सकारात्मक।
  • पर्सनल वाहनों की इन्वेंटरी ओईएम द्वारा डीलर सप्लाई में किफायत के चलते हुई कम। उम्मीद है कि जनवरी में इन्वेंटरी कम करने की दिशा में ओईएम उठाएंगे सकारात्मक कदम।

नई दिल्ली
फेडरेशन ऑफ ऑटोमोबाईल डीलर्स एसोसिएशन (फाडा) ने आज दिसंबर’18 माह के लिए वाहनों का मासिक रजिस्ट्रेशन डेटा जारी किया। दिसंबर के आंकड़ों के बारे में फाडा के प्रेसिडेंट, श्री आशीष हर्षराज काले ने कहा, ‘‘हमें हाल ही में गुजरे त्योहारों के मौसम के मुकाबले अब उद्योग में पुनः सुधार के प्रारंभिक संकेत दिखाई दे रहे हैं। पैसेंजर वाहनों की सेल्स में नकारात्मक वृद्धि समाप्त हुई और पिछले 15 दिनों में रिटेल में हुई वृद्धि से सकारात्मक संकेत मिल रहे हैं। 2-व्हीलर में वर्ष-दर-वर्ष आधार पर वृद्धि प्रदर्शित हुई, जबकि माह-दर-माह के ट्रेंड्स में मंदी रही। त्योहारों के बाद, ईंधन की कीमतें पिछले 3 माह में सबसे निचले स्तर पर चली गई हैं। यद्यपि लिक्विडिटी दिसंबर में सबसे बड़ी समस्या रही, लेकिन स्थिति में सुधार के लिए नीति निर्माताओं ने अनेक प्रयास किए, जिसके सकारात्मक परिणाम इस तिमाही में मिलेंगे। एनबीएफसी की लिक्विडिटी, जिससे ऑटो उद्योग पर प्रत्यक्ष प्रभाव पड़ता है, पर भी पूरा ध्यान दिया जा रहा है और हमें उम्मीद है कि आज एनबीएफसी एवं आरबीआई गवर्नर की मीटिंग में सकारात्मक कदम उठाए जाएंगे, जिससे ग्राहकों की रुचि बढ़ेगी। फाडा ने त्योहारों के बाद एकत्रित हुई काफी ऊँची डीलर इन्वेंटरी को बाहर निकालने के लिए ओईएम द्वारा, खासकर पैसेंजर वाहनों के ओईएम द्वारा किए गए प्रयासों की सराहना की। दिसंबर माह में होलसेल की बिलिंग में कमी और माह के अंत में अच्छी रिटेल सेल्स से कई स्थानों पर अत्यधिक ऊँची पीवी इन्वेंटरी को कम करने में मदद मिली। पीवी सेगमेंट में ओईएम द्वारा सही दिशा में उठाए गए निरंतर प्रयासों से जनवरी की समाप्ति तक सभी स्थानों पर इन्वेंटरी सामान्य स्तर पर आ जाएगी। कमर्शियल वाहनों (सीवी) की इन्वेंटरी दिसंबर में कुछ कम हो गई, लेकिन सामान्य से ज्यादा रही। सीवी ओईएम द्वारा दिसंबर में उठाए गए कदमों को जारी रखने, संशोधित डीलर बिलिंग, निरंतर मजबूत रिटेल सेल्स से जनवरी में डीलर स्टॉक का स्तर सामान्य हो जाएगा। फाडा ने यह भी बताया कि 2-व्हीलर डीलर्स की इन्वेंटरी अभी भी बहुत ज्यादा है और हमें उम्मीद है कि पीवी के ओईएम की तरह ही 2-व्हीलर के ओईएम भी ऐसे ही सकारात्मक कदम उठाएंगे, जिससे जनवरी में होलसेल बिलिंग, माह की रिटेल स्थिति के अनुरूप कम हो जाएगी। फाडा द्वारा अपने सदस्यों के बीच किए गए सर्वे के अनुसार, पर्सनल वाहनों की वर्तमान इन्वेंटरी 35 से 40 दिनों की है, टू-व्हीलर की इन्वेंटरी 55 से 60 दिनों की और सीवी की इन्वेंटरी 35 से 40 दिनों की है। फाडा द्वारा रजिस्ट्रेशन नंबर जारी करने के इस नए अभियान के बारे में श्री काले ने कहा, ‘‘हमें यह बताते हुए खुशी हो रही है कि इस माह से फाडा हर माह की 7 तारीख से 10 तारीख के बीच मासिक आधार पर वाहनों का रजिस्ट्रेशन डेटा जारी करेगा। इस प्रेस विज्ञप्ति के साथ हम साल दर साल एवं माह दर माह आधार पर पर्सनल वाहन एवं टू-व्हीलर के लिए तुलनात्मक आंकड़े जारी कर रहे हैं। हम अप्रैल से सभी श्रेणियों के लिए इसी तरह के तुलनात्मक विश्लेषण जारी करेंगे। हमें उम्मीद है कि यह इस उद्योग के लिए एवं नीति निर्माताओं के लिए एक बैरोमीटर की तरह काम करेगा और ऑटो सेल्स की जमीनी स्थिति को समझने में मदद करेगा, जिससे भविष्य की नीतियां एवं कार्य का प्रारूप तैयार करने में मदद मिलेगी। इससे न केवल हमें बल्कि उद्योग के सभी हितधारकों को ज्यादा प्रभावशाली तरीके से कारोबार की योजना बनाने में तथा इन्वेंटरी स्तर को संतुलित रखते हुए कारोबार में आवश्यक बदलाव लाने के लिए एक चालक के रूप में काम करने में मदद मिलेगी। फाडा के प्रेसिडेंट ने आगे कहा, ‘‘ग्राहकों की रुचि अभी भी सकारात्मक है, जिससे संकेत मिल रहा है कि सेल्स अपनी पिछली वृद्धि दर पर जल्द ही पुनः आ जाएगी। त्योहारों के दौरान जारी डेटा से किए गए अनुमान के अनुसार ग्राहकों द्वारा अच्छी इंक्वायरी एवं उद्योग के हितधारकों द्वारा मिलकर सामंजस्यपूर्वक आगे बढ़ने से ऑटो उद्योग एक बार फिर इस वित्तवर्ष के अंत तक दो अंकों की वृद्धि दर्ज करने लगेगा।

हमारा अध्ययन प्रदर्शित करता है कि दिसंबर माह के लिए एवं वर्ष दर वर्ष आधार पर:
- टू-व्हीलर की सेल्स बढ़कर $11 प्रतिशत रही।
- पीवी की सेल्स घटकर -3 प्रतिशत रही।

31 दिसंबर’18 तक वर्तमान वित्त साल एवं वर्ष-दर-वर्ष आधार पर:
- टू-व्हीलर की सेल्स बढ़कर $5 प्रतिशत रही।
- पीवी की सेल्स घटकर -2 प्रतिशत रही।

फाडा इंडिया के बारे में:
1964 में स्थापित, फेडरेशन ऑफ ऑटोमोबाईल डीलर्स एसोसिएशन (फाडा) भारत में ऑटोमोबाईल रिटेल उद्योग की एपेक्स नेशनल बॉडी है, जो 2/3 व्हीलर्स, पैसेंजर कार, यूवी, कमर्शियल वाहनों (बस एवं ट्रक सहित) और ट्रैक्टर्स की सेल्स, सर्विस एवं स्पेयर्स में संलग्न है। फाडा इंडिया 15,000 से अधिक ऑटोमोबाईल डीलर्स का प्रतिनिधित्व करता है, जिसमें 25,000 डीलरशिप शामिल हैं। इनमें क्षेत्रीय, राज्य और शहर के स्तर पर ऑटोमोबाईल डीलर्स के 30 एसोसिएशन हैं, जो भारत में 90 प्रतिशत बाजार अंश के बराबर हैं। हम मिलकर 2.5 मिलियन लोगों को प्रत्यक्ष रोजगार प्रदान करते हैं एवं 2.5 मिलियन लोगों को अप्रत्यक्ष रोजगार देते हैं, इस प्रकार हम देश में डीलरशिप्स और सर्विस सेंटरों पर 5 मिलियन लोगों को रोजगार प्रदान करते हैं। फाडा इंडिया साथ-साथ राज्य एवं देश के स्तर पर उद्योगों व अधिकरणों के साथ सक्रिय नेटवर्किंग करता है एवं ऑटो पॉलिसी, टैक्सेशन, वाहन रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया, सड़क सुरक्षा एवं स्वच्छ वातावरण आदि पर अपने इनपुट देता है, ताकि भारत में ऑटोमोबाईल रिटेल कारोबार की प्रगति सतत होती रहे।

whatsapp mail