रोटोमैक पैन बनाने वाले इस अरबपति के घर पर बैंक का कब्जा, 900 करोड़ का था लोन डिफॉल्टर

img

यूपी के कानपुर में स्थित पैन बनाने वाली विश्व की मश्हूर कंपनी रोटोमैक के मालिक विक्रम कोठारी के घर को बैंक ऑफ इंडिया ने अपने कब्जे में ले लिया है। कोठारी पर करीब 900 करोड़ रुपये का लोन था, जो कि कई वर्ष पहले एनपीए घोषित हो गया था। बैंक ऑफ इंडिया ने कोठारी के तिलक नगर स्थित आवास (मकान संख्या 7/23) को अपने कब्जे में ले लिया है। कोठारी पर शहर की विभिन्न बैंकों का 3600 करोड़ रुपये से अधिक का बकाया है। वहीं चेक बाउंस का केस भी दर्ज है। एक समय रोटोमैक का विज्ञापन मश्हूर फिल्म अभिनेता सलमान खान और अभिनेत्री रवीना टंडन करते थे। बैंक ऑफ इंडिया का भी करीब 1395 करोड़ रुपये का कर्ज है।  विक्रम कोठारी की चार कंपनियों के नाम से शहर की बिरहाना रोड स्थित बैंक ऑफ इंडिया ब्रांच में चार अलग-अलग खाते हैं। ये सभी खाते वर्ष 2015 में एनपीए (नॉन परफार्मिंग एसेट) हो चुके हैं। यह ऋण रोटोमैक ग्लोबल प्राइवेट लिमिटेड के नाम से 830 करोड़ रुपये, कोठारी फूड एंड फ्रेगरेंस के नाम से 155 करोड़ रुपये, रोटोमैक एक्सपोर्ट के नाम से 245 करोड़ रुपये और क्राउन एल्वा के नाम से 165 करोड़ रुपये का था। बैंक लगातार विक्रम कोठारी और फर्म के डायरेक्टरों से पत्राचार कर रहा है, लेकिन कर्ज की रकम नहीं चुकाई जा रही थी। इसके अलावा इलाहाबाद बैंक का 352 करोड़ रुपये का कर्ज है। बैंक की ओर से जारी नोटिस में बताया गया कि वर्तमान में 848 करोड़ रुपये ऋण के अलावा 30 सितंबर 2015 से ब्याज एवं अन्य खर्च भी बकाया हैं।  

whatsapp mail