सरकारी ई-प्लेटफार्म जेम को सौंपा गया डाकियों के लिए 153 करोड़ रुपये की मोबाइल खरीद का जिम्मा

img

देश भर के डाकियों के लिए स्मार्टफोन खरीदने की दौड़ में दूरसंचार मंत्रालय और डाक विभाग के अधिकारियों के साथ गुगली हो गई है। उनकी कारगुजारियों पर रोक लगाकर दूरसंचार मंत्री मनोज सिन्हा ने दो लाख से अधिक मोबाइल खरीद का जिम्मा सरकारी ई-मार्केटप्लेस जेम को सौंपा है। इनकी कीमत 153 करोड़ रुपये से भी ज्यादा है जो भारतीय पोस्ट पेमेंट बैंक (आईपीपीबी) सेवाओं को गति देने के लिए डाकियों को मुहैया कराए जाएंगे। अधिकारियों की कारगुजारियों पर रोक लगाने के बाद जेम को आईपीपीबी के लिए 202500 स्मार्टफोन खरीद के लिए दो आदेश जारी किए। पहले निजी क्षेत्र की कंपनियों से यह खरीद सीधे करने का प्रयास अधिकारियों ने किया था और टेंडर भी जारी किया जा रहा था, जिस पर दूरसंचार मंत्री सिन्हा ने इसलिए रोक लगा दी। क्योंकि जेम द्वारा खरीद में मोलभाव और बाजार से कम कीमत पर सरकार के लिए खरीद की जाती है, जबकि टेंडर के पुराने तौर-तरीके में बिचौलिए समेत अन्य को लाभ उठाते हैं। ऐसे ही तमाम कारणों से सरकार ने जेम व्यवस्था कायम की, ताकि गुणवत्तापरक खरीद की जा सके और बड़े पैमाने पर होने वाली खरीद में बाजार से कम कीमत पर सामग्री मिले। जेम को कुल 1,53,79,5000 रुपये का आर्डर आईपीपीबी के लिए मिला है। माना जा रहा है कि जल्द वह इस आदेश को पूरा करेगी और ग्रामीण क्षेत्रों में घर-घर आईपीपीबी की सेवाएं लोगों को मिलेंगी। 

whatsapp mail