कर्ज चुकाने के लिए डीएलएफ ने क्यूआईपी से 3,173 करोड़ रुपये जुटाए

img

नई दिल्ली
डीएलएफ इस राशि का उपयोग कर्ज चुकाने में करेगी। दिसंबर 2018 के अंत में उस पर करीब 7,000 करोड़ रुपये का कर्ज था। कंपनी ने सोमवार को यह पात्र संस्थागत नियोजन (क्यूआईपी) कार्यक्रम शुरू किया था। इसमें 17.3 करोड़ शेयर निवेशकों को पेश किये गये। यह पेशकश बृहस्पतिवार को बंद हुई। डीएलएफ ने शेयर बाजार को दी जानकारी में कहा कि प्रतिभूति निर्गम समिति ने 183.40 रुपये प्रति शेयर के निर्गम मूल्य पर पात्र संस्थागत खरीदारों को 17.3 करोड़ इक्विटी शेयर आवंटित करने की मंजूरी दी थी। इससे करीब 3,172.82 करोड़ रुपये एकत्र हुए हैं। सूत्रों ने मंगलवार को कहा था कि डीएलएफ के क्यूआईपी कार्यक्रम को दोगुना अभिदान मिला है। इससे कंपनी को करीब 3,200 करोड़ रुपये की पूंजी जुटाने में मदद मिलेगी। उन्होंने कहा कि इस पेशकश में भाग लेने वाले प्रमुख संस्थागत निवेशकों में यूबीएस, ओपेनहाइमर, एचएसबीसी, मार्शल एंड वेस, की स्क्वायर, गोल्डमैन साक्स, इंड्स, ईस्टब्रिज, टाटा म्यूचुअल फंड और एचडीएफसी म्यूचुअल फंड शामिल रहे। कंपनी की तरफ से यह तीसरी बड़ी पूंजी जुटाने की प्रक्रिया है। 
इससे पहले उसने 2007 में आईपीओ के जरिए करीब 9,200 करोड़ रुपये जुटाए थे। साल 2013 में कंपनी ने संस्थागत नियोजन कार्यक्रम के माध्यम से करीब 1,900 करोड़ रुपये जुटाए थे।

whatsapp mail