अशोक गहलोत ने भाजपा पर जासूसी का आरोप लगाया

img

  • राहुल-हार्दिक की 'सीक्रेट मीटिंग' पर सस्पेंस
  •     गहलोत ने गुजरात पुलिस पर जासूसी का आरोप लगाया
  •     कहा-पुलिस ने होटल से सीसीटीवी फुटेज प्राप्त किए
  •     हार्दिक ने राहुल से मीटिंग की खबरों को खारिज किया

अहमदाबाद।   राहुल गांधी और पाटीदार आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल की कथित 'गुप्त' मीटिंग पर सस्पेंस बरकरार है। इस बीच गुजरात कांग्रेस प्रभारी अशोक गहलोत ने गुजरात पुलिस पर कांग्रेस नेताओं की जासूसी का आरोप लगाया है। उन्होंने कई ट्वीट के माध्यम से आरोप लगाया है कि वह अहमदाबाद के जिस होटल में ठहरे थे, उसकी सीसीटीवी फुटेज गुजरात पुलिस ने हासिल की है। 
कई गुजराती चैनलों ने फुटेज चलाई कि हार्दिक पटेल उस होटल में गए जहां राहुल गांधी ठहरे थे। इस पर अशोक गहलोत ने आरोप लगाया कि गुजरात पुलिस और आईबी ने उन सीसीटीवी फुटेज को होटल से प्राप्त किया। उनके मुताबिक वह उस दिन दिन भर कई नेताओं से मुलाकात करते रहे। उन्होंने ट्वीट कर पूछा कि आईबी और पुलिस ने होटल से सीसीटीवी फुटेज हासिल क्यों किए। बीजेपी के आदेश से इस तरह के सर्विलांस की मैं निंदा करता हूं।
अशोक गहलोत ने ट्वीट कर कहा मैंने उस दिन होटल में हार्दिक पटेल और जिग्नेश मेवानी से मुलाकात की थी। आईबी और पुलिस होटल के उन कमरों की चेकिंग कर रही है। गांधी जी के गुजरात में ये सब क्या हो रहा है क्या हार्दिक पटेल और जिग्नेश मेवानी अपराधी या भगोड़े हैं यदि ऐसा है तो बीजेपी को अपना स्टैंड साफ करना चाहिए। जब इनकी मुलाकात बीजेपी नेताओं से मुलाकात हुई थी तब तो उनके ऑफिसों की जांच नहीं हुई थी अब ऐसा क्यों हो रहा है 
उल्लेखनीय है कि हार्दिक पटेल ने राहुल गांधी से मुलाकात की खबरों को खारिज किया था लेकिन एक पब्लिक मीटिंग में कहा था कि वह अशोक गहलोत से मिले थे और अगली बार जब राहुल गांधी आएंगे तब उनसे मिलेंगे।