एशिया की यात्रा पर मुक्त और खुले हिंद-प्रशांत क्षेत्र की वकालत करेंगे ट्रंप

img

वाशिंगटन। अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप अपनी पहली एशिया यात्रा के दौरान मुक्त एवं खुले हिंद-प्रशांत क्षेत्र को बढ़ावा देने की वकालत करेंगे। व्हाइट हाउस ने इसकी जानकारी दी। दुनिया के सबसे ज्यादा शक्तिशाली देश के राष्ट्रपति बनने के 10 महीने बाद ट्रंप दो सप्ताह की लंबी यात्रा पर एशिया आने वाले हैं। यात्रा से पहले ट्रंप प्रशासन के एक वरिष्ठ अधिकारी ने कहा कि राष्ट्रपति की यह यात्रा अमेरिका के सहयोगियों और साझेदारों के साथ उनकी प्रतिबद्धता को रेखांकित करेगी और खुले तथा मुक्त हिंद-प्रशांत क्षेत्र में अमेरिका के नेतृत्व की पुष्टि करेगी। सिंगापुर के प्रधानमंत्री की अमेरिका यात्रा के दौरान संयुक्त रूप से मीडिया को संबोधित करते हुए ट्रंप ने स्वयं कहा था कि वह तीन से 14 नवंबर तक अपनी एशिया यात्रा को लेकर बहुत उत्सुक हैं।