तिरुपति बालाजी मंदिर : ना देखा होगा, ना सुना होगा इतना दान 

img

आंध्रप्रदेश 
यहां भगवान वेंकटेश्वर के विश्व प्रसिद्ध धार्मिक स्थल तिरुपति बालाजी मंदिर में गुरुवार को हुंडी (दानपात्र) में 6.28 करोड़ रुपये का दान जमा कराया गया। ये मंदिर के 2000 साल के इतिहास में एक दिन के दान की सबसे बड़ी रकम का रिकॉर्ड है। मंदिर प्रबंधन के अनुसार, अगणित संपत्ति के मालिक इस मंदिर के इतिहास में इससे पहले एक दिन में सबसे ज्यादा दान आने का रिकॉर्ड 5.73 करोड़ रुपये का था, जो वर्ष 2012 में रामनवमी के मांगलिक आयोजन के मौके पर दर्ज किया गया था। इस पहाड़ी मंदिर में पूरे साल रोजाना हजारों श्रद्धालु पहुंचते हैं, जिनकी तरफ से रोजाना औसतन 2.5 करोड़ से 3.5 करोड़ रुपये तक का चढ़ावा दान के तौर पर चढ़ाया जाता है। माना जा रहा है कि गुरुवार को दानपात्र से निकले दान की रकम के 6.28 करोड़ रुपये तक पहुंचने के पीछे किन्हीं एक या दो श्रद्धालुओं की तरफ से जमा कराई गई रकम जिम्मेदार है, जिन्होंने गोपनीय तौर पर इसमें करोड़ों रुपए जमा कराई है।