तीन टेस्ट का बैन लग सकता है, रबादा ने पहले स्मिथ और अब वार्नर को अपना निशाना बनाया

img

नई दिल्ली
दक्षिण अफ्रीका के तेज गेंदबाज कैगिसो रबाडा अभी सिर्फ 22 साल के हैं। वह 27 टेस्ट खेल चुके हैं, लेकिन परिपक्वता अभी मीलों दूर दिखाई पड़ रही है। रबाडा ने एक बार फिर से कुछ ऐसा कर डाला, जिसके कारण उन पर अब बड़ा कलंक लग सकता है। ऑस्ट्रेलिया के साथ पोर्ट एलिजाबेथ में दूसरे टेस्ट में ऑलियाई कप्तान स्टीव स्मिथ के कंधों से शारीरिक घर्षण के कारण उनके खिलाफ आईसीसी की आचार संहिता के लेवल-2 के उल्लंघन का आरोप लगा है। यह मामला अभी ठंडा भी नहीं पड़ा था कि रबाडा ने अपना कबाड़ा करने के लिए एक और ऐसी हरकत कर डाली। और अब उन पर एक टेस्ट में दूसरी बार एक और आरोप लगा है। कैगिसो रबाडा वर्तमान में पांच डिमेरिट प्वाइंट्स पर हैं। और अगर वह लेवल-2 अपराध के दोषी पाए जाते हैं, तो उन पर अगले दो टेस्ट मैच खेलने का प्रतिबंध लग जाएगा। और अब अगर इसमें उनके हालिया लेवल-1 के आरोप को जोड़ लिया जाए, तो उनके नौ डिमेरिट प्वाइंट हो जाएंगे। इसका अर्थ यह है कि रबाडा 12 डिमेरिट प्वाइंट्स की तहलीज पर होंगे। ये 12 प्वाइंट्स छह निलंबन अंकों के बराबर हैं। और इसके चलते रबाडा कम से कम तीन टेस्ट मैचों का प्रतिबंध झेलने पर मजबूर हो सकते हैं। कंगारू कप्तान स्टीव स्मिथ के साथ रबाडा की घटना पहली पारी में हुई थी। तब उन्होंने स्मिथ का विकेट लेने के बाद उनके चेहरे के पास जाकर यस, यस, यस कहा और फिर अपने कंधों से स्मिथ के कंधों को टकराया। रबाडा अभी तक सीरीज में 15 विकेट चटकाकर सबसे ज्यादा विकेट लेने वाले गेंदबाज हैं।
लेकिन अब उन्होंने दूसरी पारी में जो अपराध डेविड वॉर्नर के खिलाफ किया, उससे उन्हें भारी नुकसान झेलना पड़ सकता है। पोर्ट एलिबाजबेथ में रबाडा ने सिर्फ 18 गेंदों के भीतर पांच विकेट चटकाए थे। चौथे दिन उन्होंने 54 रन पर 6 विकेट चटकाकर ऑस्ट्रेलियाई पारी का बोरिया-बिस्तर जल्द समेटने में अहम भूमिका निभाई थी।