प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया टोंक के स्वरोजगार केंद्र का ईडिजिटल लोकार्पण

img

टोंक  भारत के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा बुधवार को देश के 11 ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थानों का ईडिजिटल लोकार्पण किया गया,जिसमें टोंक का नाना जी देशमुख ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान बड़ौदा स्वरोजगार विकास संस्थान भी शामिल है। डाइट रोड पर संस्थान के नवनिर्मित भवन के लोकार्पण समारोह में मु?य अतिथि के रूप में सम्बोधित करते हुए जिला कलेक्टर ने कहा कि ग्रामीण युवाओं को स्वरोजगार के लिए तैयार करने में संस्थान की महत्वपूर्ण भूमिका होगी। ज्यादा से ज्यादा युवा प्रशिक्षण प्राप्त कर अपना रोजगार लगायें। जिला कलक्टर ने बैंक ऑफ बड़ौदा के कार्यों की सराहना करते हुए सभी बैंको से युवाओं को रोजगार लगाने के लिए सहयोग की अपील करते हुए कहा कि बैंको का सामाजिक दायित्व भी है। गरीब व्यक्ति का भी बैंको पर हक है। बैंक युवाओं को चक्कर नही कटा कर पात्र लोगों को शीघ्र ऋण मुहैया करायें। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री सृजन योजना में अनुदान सीमा बढ़ा दी गई है। अब अधिक से अधिक  युवाओं  को इसका लाभ दें। कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए बैंक ऑफ बड़ौदा जयपुर अंचल के महाप्रबंधक  नवीन चन्द्र उप्रेती ने कहा कि देश के 586 प्रशिक्षण संस्थानों द्वारा 23 लाख युवाओं को प्रशिक्षण दिया गया जिसमें से 15 लाख युवाओं ने स्वरोजगार शुरू कर दिया है। राज्य में 35 संस्थानों में से 33 को भवन के लिए जमीन का आवंटन हो चुका है। 2 लाख युवाओं को रोजगार का प्रशिक्षण दिया,जिनमें 70 प्रतिशत युवा स्वरोजगार से जुड़ गये है। बैंक द्वारा देश में 39 व राज्य में 12 संस्थानों द्वारा स्वरोजगार प्रशिक्षण दिया जा रहा है। देश में 3 लाख व राज्य में 55 लाख हजार युवाओं को प्रशिक्षण दिया जा चुका है।
 अजमेर क्षेत्रीय प्रबंधक श्री चौबीसा स्वागत भाषण में नाना जी देशमुख का परिचय दिया। संस्थान के प्रबंधक ने बताया कि 30 सितम्बर 2009 को प्रारम्भ संस्थान द्वारा अब तक 5 हजार से अधिक युवाओं को विभिन्न ट्रेडों में प्रशिक्षण दे कर अधिकांश को स्वरोजगार से जोडा गया। वित्तीय वर्ष 201617 में 805 युवाओं को प्रशिक्षण दिया जिनमें 331 महिलाएं व 174 बीपीएल शामिल है।