सहायक शिक्षक भर्ती में एक और धांधली, रोल नंबर 11 अंकों का जारी किया 

img

परिषदीय प्राथमिक विद्यालयों में 68,500 सहायक अध्यापकों की भर्ती परीक्षा में हर कदम पर लापरवाही बरती गई। जांच रिपोर्ट में सामने आया है कि परीक्षा से लेकर उत्तर पुस्तिकाओं के मूल्यांकन व अंक चढ़ाने तक में गंभीर चूक हुई। परीक्षा के लिए तैयार कराई गई बुकलेट पर रोल नंबर भरने के लिए 10 ब्लॉक बने थे, लेकिन अनुक्रमांक 11 अंकों का जारी कर दिया गया। यहीं से चूक की शुरुआत हो हई। परीक्षा से ऐन पहले गलती पकड़ में आई तो परीक्षा से जुड़े कार्य कंप्यूटराज्ड के बजाय मैनुअली कराने का फैसला किया गया। सूत्रों के अनुसार, सहायक अध्यापक भर्ती में हर स्तर पर अनियमितता और लापरवाही बरती गई। जांच रिपोर्ट में इनका उल्लेख किया गया है। परीक्षा कराने के लिए हर स्तर पर अलग-अलग जिम्मेदारियां तय की गई थीं। आवेदन पत्र प्राप्त करने से लेकर अनुक्रमांक जारी करने तक का काम एक एजेंसी से कराया गया। परीक्षा का आयोजन, मूल्यांकन व अंकों को चढ़ाने का काम विभाग ने कराया। परिणाम तैयार किया किसी अन्य एजेंसी ने। उत्तर पुस्तिकाओं का मूल्यांकन शिक्षकों से मैनुअली कराया गया। उन्होंने कॉपी जांचने से लेकर नंबर के योग और उन्हें चढ़ाने तक में गंभीर चूक की। रही-सही कसर कुछ बुकलेट का पार्ट-सी दूसरी कॉपियों में रखे जाने से पूरी हो गई।
 

whatsapp mail