एसआरएम ग्रुप ऑफ इन्सटीट्यूशन्स ने शुरू कीएसआरएमजेईईई (बीटेक), एसआरएमजेईईएच (यूजी/ पीजी) 2019 प्रवेश परीक्षाएं

img

दिल्ली
इंजीनियरिंग के लिए एसआरएम जॉइन्ट एंट्रेन्स एक्ज़ाम एसआरएमजेईईई (बीटेक) तथा हेल्थ साइन्स के लिए एसआरएम जॉइन्ट एंट्रेन्स एक्ज़ाम एसआरएमजेईईएच (यूजी एवं पीजी के लिए संयुक्त प्रवेश परीक्षाओं) का आयोजन 15 से 25 अप्रैल 2019 के बीच होगा। एसआरएमजेईईई (बीटेक) में अखिल भारतीय रैंक के आधार पर छात्र एसआरएम इन्सटीट्यूट एण्ड टेक्नोलॉजी के चारों परिसरों और एसआरएम युनिवर्सिटी हरियाणा, सोनीपत और एसआरएम युनिवर्सिटी एपी, अमरावती में प्रवेश पा सकेंगे। भारत के 29 राज्यों और 7 केन्द्रशासित प्रदेशों तथा दुबई, कुवैत, कातर, बहरीन एवं ओमान से 1,40,000 उम्मीदवारों ने एसआरएमजेईई 2019 के लिए आवेदन किया है। एसआरएमजेईई का आयोजन भारत और उत्तर-पूर्व के 128 शहरों में किया जाएगा। इसमें शीर्ष पायदान के पांच राज्यों- आन्ध्रप्रदेश (21002), तमिलनाडू (18663), उत्तरप्रदेश (13215), तेलंगाना (12636) और महाराष्ट्र (10120) ने कुल आवेदनों में 55.26 फीसदी का योगदान दिया है। एसआरएमजेईईई (बीटेक) के परिणाम 27 अप्रैल 2019 को जारी किए जाएंगे। एसआरएमजेईई में अखिल भारतीय रैंक के आधार पर छात्रों को 3 मई 2019 से 10 मई 2019 के बीच काउन्सलिंग के लिए बुलाया जाएगा (कुछ राज्यों में 6 मई को चुनाव की वजह से काउन्सलिंग नहीं होगी)। छात्रों को लम्बी दूरी तय करने से होने वाली मुश्किलों तथा बेवजह पैसा खर्च करने से बचाने के लिए ऑन-कैम्पस काउन्सलिंग का आयोजन छह परिसरों- कट्टनकुलाथुर, रामापुरम, वडापलानी, गाजिय़ाबाद, सोनीपत और अमरावती में एक साथ होगा। कोई भी उम्मीदवार जिसे काउन्सलिंग के लिए बुलाया गया है, वे अपने पसंद के परिसर में निर्धारित दिनांक पर जा सकता है। वह अपनी सुविधानुसार तथा काउन्सलिंग की समय-सारणी, एसआरएमजेईईई रैंक ऑर्डर एवं सीटों की उपलब्धता के आधार पर कोई भी विश्वविद्यायल, कोई भी परिसर या शाखा/ स्पेशलाइज़ेशन चुन सकता है। एसआरएमजेईईई में टॉप 100 रैंक पर आने वाले उम्मीदवारों को फाउंडर्स छात्रवृत्ति मिलेगी, जिसमें ट्यूशन शुल्क, हॉस्टल एवं मैस शुल्क पर पूर्ण छूट शामिल है। इसके अलावा कई अन्य श्रेणियों जैसे खेल, सामाजिक-आर्थिक, विकलांग, कम आय और एसआरएम आट्र्स एण्ड कल्चर आदि में भी छात्रवृत्ति उपलब्ध है। 

whatsapp mail