अफगानिस्तान : आम नागरिक झेल रहे 17 साल से संघर्ष का दंश  

img

वल्र्ड डेस्क
दक्षिणी अफगानिस्तान में इस सप्ताह अमेरिका के हवाई हमले में महिलाओं और बच्चों समेत कम से कम 23 नागरिक मारे गए। अफगानिस्तान के आम नागरिक 17 साल के संघर्ष का दंश अब भी झेल रहे हैं।
अफगानिस्तान में संयुक्त राष्ट्र के मिशन ने एक रिपोर्ट में कहा, प्रारंभिक जांच में पता चला है कि पीडि़तों में बड़ी संख्या में महिलाएं और बच्चे थे। हमले में कम से कम तीन लोग घायल भी हुए। यह हमला अशांत हेलमंद प्रांत में मंगलवार देर रात को अमेरिकी परामर्शकों के साथ काम कर रहे अफगान विशेष बलों और तालिबान लड़ाकों के बीच संघर्ष के दौरान हुआ। प्रांतीय अधिकारियों ने पहले कहा था कि हमले में एक परिवार के कई सदस्यों के मारे जाने की आशंका है। एक अधिकारी ने कहा कि कम से कम 18 नागरिक मारे गए, जिसकी पुष्टि नहीं की जा सकी थी। नाटो ने कहा कि वह घटना की जांच कर रहा है। घटनास्थल के समीप रहने वाले हाजी मोहम्मद ने बताया कि हमला तब हुआ जब तालिबानी आतंकवादी सुरक्षाबलों के साथ लड़ाई के दौरान एक घर में घुस गए। उन्होंने बताया कि हमले में नौ आतंकवादियों के साथ कई नागरिक मारे गए। संयुक्त राष्ट्र की एक रिपोर्ट के मुताबिक, नागरिक अत्यधिक मुश्किलों का सामना कर रहे हैं। इस साल जनवरी से सितंबर की अवधि के दौरान 8,050 लोग मारे गए या घायल हो गए।
 

whatsapp mail