इमरान ने जताई मोदी से मिलने की इच्छा, किया 26/11 के हमलावरों को सबक सिखाने का दावा

img

इमरान खान को पाकिस्तान में सरकार बनाए हुए सौ दिन पूरे हो गए हैं। इस मौके पर जहां पाकिस्तान में पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी जगह-जगह 100 दिन पूरे होने पर कार्यक्रम का आयोजन कर रही है। पाकिस्तानी आवाम से मुखातिब पाकिस्तान के प्रधानमंत्री ने एक बार फिर से भारत से संबंध सुधारने की बात कही है। साथ ही उन्होंने मुंबई हमलावरों को भी नहीं बख्शने की बात कही है। साथ ही साथ इमरान खान ने नरेंद्र मोदी से मुलाकात की बात कही और कहा कि मुझे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी से मुलाकात और बात करने में खुशी होगी। इमरान अब पाकिस्तान में 100 दिन पुराने हो चुके हैं। इस मौके पर उन्होंने आतंक के मुद्दे पर अपने विचार रखे। उन्होंने साफ तौर पर कहा कि पाकिस्तान की जमीन का बाहर आतंकवाद फैलाने के लिए इस्तेमाल होने की इजाजत देना हमारे हित में नहीं है। वहीं एक बार फिर उन्होंने इस मौके पर कश्मीर मुद्दे को देश की जनता के सामने रखा और कहा कि इस दुनिया में कुछ भी असंभव नहीं है। इमरान खान ने कश्मीर मुद्दे के समाधान की संभावना पर कहा, कुछ भी असंभव नहीं है। पाकिस्तान के लोग भारत के साथ अमन चाहते हैं। यहां के लोगों की मानसिकता बदल चुकी है। यही नहीं इमरान खान ने अपनी आवाम से बातचीत करने हुए मुंबई हमले का भी जिक्र किया और कहा कि हम मुंबई हमले के गुनहगारों को सजा देकर रहेंगे। हाफिज सईद पर संयुक्त राष्ट्र ने प्रतिबंध लगा रखा है। जमात-उद-दावा प्रमुख पर पहले से ही शिकंजा कसा हुआ है। इमरान खान ने कहा, चलिये बात करते हैं। मैं किसी भी मुद्दे पर बातचीत करने के लिए तैयार हूं। कश्मीर का हल एक सैन्य समाधान नहीं हो सकता। उन्होंने कहा कि मुंबई हमले के गुनहगारों को सजा देने पर कहा, हाफिज सईद पर संयुक्त राष्ट्र ने प्रतिबंध लगा रखा है। जमात-उद-दावा प्रमुख पर पहले से ही शिकंजा कसा हुआ है।
 

whatsapp mail