पाकिस्तान को एक और एयर स्ट्राइक का डर, बोला- अभी भी नहीं खोलेंगे अपना एयर स्पेस

img

इस्लामाबाद
आतंकवाद के पनहगार पाकिस्तान को एक और एयर स्ट्राइक का डर सता रहा है। ऐसा हम इसलिए कह रहे हैं क्योंकि पाकिस्तान ने कहा है कि भारत जबतक अपने लड़ाकू विमानों को वायुसेना के एयरबेस से नहीं हटा लेता, तब-तक वह कमर्शियल उड़ानों के लिए अपना एयर-स्पेस नहीं खोलेगा। पाकिस्तान की विमानन सचिव शाहरुख नुसरत ने संसदीय समिति को ये जानकारी दी है। भारतीय वायु सेना के फाइटर जेट्स ने कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान के बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद के आतंकी ठिकानों को तबाह कर दिया था। भारत की इस कार्रवाई के बाद पाकिस्तान ने 26 फरवरी को अपना हवाई क्षेत्र पूरी तरह से बंद कर दिया था। पाकिस्तान की नागरिक उड्डयन प्राधिकरण की महानिदेशक नुसरत ने गुरुवार को स्थायी समिति को बताया कि उन्होंने भारतीय अधिकारियों को सूचित कर दिया है कि जबतक वो अपने फॉरवर्ड पोजिशन के फाइटर जेट्स को नहीं हटा लेता तबतक पाकिस्तानी हवाई क्षेत्र भारत के उपयोग के लिए अनुपलब्ध रहेगा। नुसरत ने समिति को बताया कि भारतीय अधिकारियों ने पाकिस्तान से संपर्क करके हवाई क्षेत्र के प्रतिबंधों को हटाने का अनुरोध किया था। जिसके बाद हमने भारत सरकार को अपनी चिंताओं से अवगत करा दिया है कि पहले भारत को अपने लड़ाकू विमानों को फॉरवर्ड पोस्ट से हटाना होगा। पाकिस्तान के प्रतिबंध के बाद सभी यात्री उड़ानों को भारत के वैकल्पिक मार्गों की ओर मोड़ दिया गया है। वहीं, भारतीय हवाई क्षेत्र के बंद होने के बाद थाईलैंड से पाकिस्तानी आने वाली उड़ानों को अभी तक बहाल नहीं किया गया है। इसके अलावा मलेशिया के लिए पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस की उड़ानें भी निलंबित हैं। पिछले महीने पाकिस्तान ने किर्गिस्तान की राजधानी बिश्केक की आधिकारिक यात्रा के लिए धान मंत्री नरेंद्र मोदी को अपने हवाई क्षेत्र का उपयोग करने की विशेष अनुमति दी थी। हालांकि, प्रधानमंत्री मोदी ने पाकिस्तान के एयर स्पेस का उपयोग न कर दूसरे रास्ते से जाने का फैसला लिया।

whatsapp mail