लंबी दूरी के मिसाइल अड्डे को विस्तार दे रहा उत्तर कोरिया, उपग्रह से मिलीं तस्वीरें

img

उत्तर कोरियाई नेता किम जोंग-उन और अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के बीच सिंगापुर में हुई शिखर वार्ता के दौरान मिसाइल कार्यक्रमों पर रोक लगाने के संकल्प के बावजूद उत्तर कोरिया लगातार इस पर काम कर रहा है। इस पर अमेरिकी एजेंसी के चेताने पर भी ट्रंप फिलहाल किम जोंग पर भरोसा जताते रहे हैं। इस बीच सीएनएन ने भी उपग्रह से प्राप्त तस्वीरों के आधार पर बड़ा खुलासा किया है कि प्योंगयांग अपने एक अहम मिसाइल अड्डे का विस्तार कर रहा है। सीएनएन के मुताबिक उत्तर कोरिया ने पर्वतीय क्षेत्र रीयोंग्जेओ-डोंग में लंबी दूरी के इस मिसाइल अड्डे का विस्तार किया है। उसने एक अन्य अड्डे का भी निर्माण किया है जो पहले कभी भी सार्वजनिक रूप से पहचान में नहीं आया है। अमेरिकी रक्षा मंत्रालय पेंटागन ने कहा कि हम उत्तर कोरिया पर करीब से निगाह रखे हैं लेकिन खुफिया जानकारी के बारे में चर्चा नहीं कर सकते हैं। यह सब उन हालातों में हो रहा है जबकि किम जोंग-उन अपनी सिंगापुर शिखर वार्ता में कोरियाई प्रायद्वीप के निरस्त्रीकरण पर सहमत हो चुके हैं। हालांकि इसे कैसे करना है इस पर कोई विवरण नहीं दिया गया था। विशेषज्ञों ने अमेरिकी न्यूज नेटवर्क को बताया कि मिसाइल अड्डे की लोकेशन उत्तर कोरिया की नई लंबी दूरी की मिसाइलों के लिए बिलकुल सटीक है। इनमें परमाणु हथियारों को ले जाने में सक्षम मिसाइलें भी शामिल हैं। 
 

whatsapp mail