अमेरिका ने पाक को दिया कड़ा संदेश, कहा- आतंकवाद से निपटने में दे मोदी का साथ

img

वल्र्ड डेस्क
अमेरिकी रक्षा मंत्री जिम मैटिस ने पाक को एक कड़ा संदेश देते हुए मोदी की प्रशंसा की है। मैटिस ने कहा, अब समय आ गया है कि सब मिलकर संयुक्त राष्ट्र, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और दक्षिण एशिया में शांति स्थापित करने की कोशिश कर रहे हर एक की कोशिशों का समर्थन करें। उन्होंने कहा, यदि अफगानिस्तान में युद्ध खत्म करना है, तो पाक को तालिबान के साथ शांति वार्ता में अहम भूमिका निभानी होगी। भारतीय उपमहाद्वीप में शांति प्रयासों के लिए मोदी की तारीफ करते हुए पेंटागन में अमेरिकी रक्षा मंत्री जिम मैटिस ने पाक पर निशाना साधते हुए कहा कि उपमहाद्वीप और अफगानिस्तान में शांति स्थापित करने के लिए 40 सालों का समय काफी था, लेकिन ऐसा हो नहीं पाया। इसलिए अफगानिस्तान में लोगों की सुरक्षा प्रतिबद्धता के लिए अमेरिका उन सभी का समर्थन करता है जिनकी कोशिशों से शांति बहाली आसान हुई है। मैटिस अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के पाक पीएम इमरान को लिखे एक पत्र का जवाब दे रहे थे, जिसमें कहा गया कि अफगानिस्तान पर सहयोग करने पर ही अमेरिका-पाक रिश्ते दोबारा पटरी पर आएंगे। पत्र में, ट्रंप ने यह स्पष्ट किया कि अफगानिस्तान के मुद्दे पर पाक का पूर्ण समर्थन पाक-अमेरिकी साझेदारी के निर्माण का स्थायी आधार होगा। मैटिस ने पेंटागन में अपनी भारतीय समकक्ष निर्मला सीतारमण का स्वागत करते हुए पत्रकारों से कहा, हम उपमहाद्वीप में शांति और 40 साल से युद्धरत अफगानिस्तान में संघर्ष खत्म करने का समर्थन करने के लिए हर जिम्मेदार देश से अपेक्षा करते हैं।

whatsapp mail