'फेसबुक पर लगा अजीब आरोप, एक पूर्व कर्मचारी ने कहा, एफबी को अश्वेत लोगों से परेशानी

img

फेसबुक के पूर्व कर्मचारी ने कंपनी पर नौकरियों और सोशल नेटवर्क पर अश्वेत लोगों को शामिल करने में नाकाम रहने का आरोप लगाया है। फेसबुक में रणनीतिक सहयोगी प्रबंधक रहे मार्क ल्यूकी ने काम के आखिरी दिन से कुछ पहले फेसबुक कर्मचारियों को एक संदेश भेजा था। उन्होंने संदेश में लिखा, फेसबुक को अश्वेत लोगों से परेशानी है। अश्वेत लोगों को निकाला जाना दर्शाता है कि ऐसे कर्मचारी कंपनी में हाशिए पर हैं। हालांकि फेसबुक की ओर से इस मामले पर कोई जवाब नहीं आया है। ल्यूकी ने कहा कि संख्या के आधार पर तो काफी अश्वेत लोग सोशल नेटवर्क पर हैं, लेकिन कंपनी के भीतर उनके लिए कई बाधाएं पैदा की जा रही हैं। कई बार सहयोगियों को यह कहता सुना है कि उन्हें नहीं पता था कि फेसबुक में अश्वेत लोग भी काम करते हैं। इतना ही नहीं, श्वेत लोगों की आपत्ति के चलते फेसबुक से ऐसा कंटेंट हटाया और अकाउंट निलंबित किए गए जो कंपनी की नीतियों का उल्लंघन नहीं करते। मौजूदा समय में कुल चार प्रतिशत अश्वेत लोग फेसबुक में काम करते हैं, जो 2016 में दो प्रतिशत थे। 
 

whatsapp mail