इस दिवाली रहें सुरक्षित और सेतहमंद

img

जयपुर
यह वर्ष का वह समय है जब उत्सव अपने पूरे शबाब पर है और हर कोई छुट्टियों के मूड में होता है। लेकिन दिवाली के लिए तैयार होने के साथ हम सभी के लिए यह जरूरी है कि हम हवा में व्याप्त प्रदूषण के प्रति सावधानी बरतें और सुनिश्चित करें कि हम एक सुरक्षित और स्वस्थ दिवाली मनायें। जब आप सुरक्षित त्यौहार मनाने के लिए सावधानी बरतते है तो दियों के साथ अपने घर को उजागर करने का विचार सबसे अच्छा लगता है। यह दिवाली, त्यौहार का पूर्ण आनंद लेते हुए यह सुनिश्चित करें कि आपका परिवार स्वस्थ और सुरक्षित होने की परवाह करते है। इन उपयोगी युक्तियों की सहायता से त्योहारों का पूर्ण आनंद लें। अपने प्रियजनों को नट्स के राजा - बादाम देकर स्वस्थ उपहार दें। अभिनेत्री प्रियंका चोपडा की मां, डॉ मधु चोपड़ा, का कहना है, "पारंपरिक रूप से, त्यौहारों और विशेष अवसरों के दौरान, बादाम एक शुभ उपहार बनते हैं। बादाम उपहारस्वरूप देना अच्छा स्वास्थ्य देने की तरह है। बादाम को उपहार देने वाले की देखभाल और चिंता का प्रतीक है। सालों से, बादाम मेरे घर में सबसे अच्छे उपहार विकल्प के रूप में पसंदीदा रहा है। हम न केवल दिवाली के लिए घर पर बादाम के स्नैक्स बनाएंगे, बल्कि एक मां के रूप में मैं यह सुनिश्चित करती हूं कि मेरे बच्चे हर दिन एक मुट्ठी भर खाएंगे। हम इन स्नैक्स को मित्रों और परिवार के लिए एक स्वस्थ उपहार के रूप में भी ले जाएंगे। दिवाली जैसे त्यौहार के दौरान आपके परिवार के सदस्यों की सुरक्षा सबसे महत्वपूर्ण है। डॉ. मधू चोपड़ा ने बताया, 'किसी भी अप्रिय घटना से बचाव के लिए परिजनों द्वारा दिये जलाने के समय पास में एक बालटी पानी रखना हमेशा याद रखती हूॅ। हर समय सतर्क रहना जरूरी है। और ध्यान देना कि किसी तरह की लापरवाही, चिंगारी या दियों से आग तो नहीं पकडी जा रही है। 
प्रतिरक्षा को बढ़ावा दें मुंबई स्थित पोषण विशेषज्ञ और फिटनेस विशेषज्ञ माधुरी रुईया कहती हैं, दिवाली के दौरान अस्वस्थ भोजन की अधिक खपत आम बात हैं। अपने त्योहारी आहार में थोडा सा बदलाव करके इससे बचा जा सकता है। ताजा भोजन, फल और बादाम सहित स्वस्थ, संतुलित भोजन खायें और तेलयुक्त भोजन से बचें। अपने जीवन में छोटे बदलावों को शामिल करना जैसे हर दिन बादाम के मुट्ठी भरना और नियमित व्यायाम करने से आप स्वस्थ जीवन को बनाए रखने में मदद करेंगे। जैसा कि आप त्योहार के लिए तैयारी में व्यस्त होगें तो ऐसे में  अपने आप को हाइड्रेटेड और ऊर्जावान रखने के लिए बहुत सारे पानी पीना याद रखें। "
आराम से सांस ले
बैंगलोर स्थित पोषण विशेषज्ञ शीला कृष्णस्वामी कहती हैं। "कोशिश करें और जितना हो सके घर के अंदर रहें। गर्भवती महिलाओं और अस्थमा और ब्रोंकाइटिस से पीडि़त लोगों के लिए यह विशेष रूप से महत्वपूर्ण है। वायु प्रदूषण से बचने के लिए दिवाली के कुछ दिनों के बाद तक सुबह की सैर से बचे। इसके बजाय, घर के अंदर व्यायाम करें। अपने डॉक्टर के नम्बर को अपने पास रखों, विशेष रूप से उन लोगों के लिए जिन्हें पुरानी श्वास संबंधी समस्याएं हैं।

whatsapp mail