उत्तर भारत को कंपकंपाएगी हिमाचल की बर्फ

img

शिमला
हिमाचल प्रदेश में दो दिन से मौसम खराब चल रहा है। तापमान में चार डिग्री तक की कमी आई है। जनजातीय क्षेत्रों में रुक-रुक कर हिमपात हो रहा है। प्रदेश के पर्वतीय क्षेत्रों में भी बर्फ गिरने का क्रम जारी है। मंगलवार को रोहतांग दर्रे में आधे फुट से ज्यादा हिमपात हो चुका है। लाहुल स्पीति में पांच इंच तक बर्फ गिरी है। चंबा के पांगी-भरमौर और कांगड़ा की धौलाधार की पहाडिय़ों पर बीच-बीच में बर्फ गिर रही है। मौसम विभाग ने बुधवार को भी बारिश-हिमपात की संभावना जताई है। प्रदेश में हिमपात का असर चंडीगढ़ व दिल्ली सहित पूरे उत्तर भारत में पड़ेगा। गिर रहे तापमान के कारण राष्ट्रीय राजधानी में भी तापमान में कमी आएगी। रोहतांग दर्रे में आधा फुट से अधिक ताजा हिमपात हो चुका है। दो ट्राले फंस जाने से छोटे वाहनों के लिए दर्रा बंद हो गया है। कोकसर रेस्क्यू टीम के प्रभारी पवन कुमार ने बताया कि रोहतांग दर्रा फिलहाल वाहनों के लिए बंद कर दिया गया है। उधर लाहुल में सुबह मायड़ घाटी के शकोली नाले में ग्लेशियर गिरने से हिमाचल पथ परिवहन निगम की बस फंस गई। शकोली नाले में ग्लेशियर आने से बस फंस गई। यात्री, बस के चालक व परिचालक पैदल उदयपुर पहुंचे। लाहुल घाटी में पांच इंच तक हिमपात हो चुका है। केलांग-कुल्लू के बीच भी बस सेवा बंद है। परिवहन निगम के आरएम मंगल चंद मनपा ने बताया कि मायड़ के शकोली नाले में ग्लेशियर आने से बस फंस गई है। लाहुल घाटी में बस सेवा अभी बंद है। बर्फबारी से रोहतांग सुरंग के दोनों पोर्टल बर्फ से ढक गए है। सुरंग के अंदर तापमान सामान्य है, लेकिन छोर के बाहर तापमान माइनस डिग्री से नीचे लुढ़क गया है। रोहतांग सुरंग परियोजना के चीफ इंजीनियर चंद्र राणा ने बताया कि मंगलवार सुबह से रोहतांग सुरंग के दोनों ओर बर्फबारी हो रही है। दोनों पोर्टल बर्फ से ढक गए हैं, लेकिन सुरंग का कार्य जारी है। 

whatsapp mail