विरोध प्रदर्शन के बीच सबरीमाला मंदिर के कपाट खुले, सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त

img

तिरूवनंतपुरम
केरल के प्रसिद्ध सबरीमाला मंदिर के कपाट खुल गए। इस दौरान पारंपरिक पूजा विधि से आरती की गई। जानकारी के मुताबिक भक्त रात 10.30 बजे तक भगवान अयप्पा के दर्शन कर सकेंगे। हालांकि इसे लेकर सुबह से ही तनाव बना हुआ था। इससे पहले उग्र प्रदर्शनकारी हिंसा पर उतर आए थे। प्रदर्शनकारियों ने मीडिया के वाहनों को भी निशाना बनाया। वहीं, पुलिस ने कार्रवाई करते हुए 30 प्रदर्शनकारियों को हिरासत में ले लिया था। प्रशासन ने पंपा, नीलक्कल, सनिधनम और इलावुंगल में धारा 144 लगा दी है। बता दें कि सुप्रीम कोर्ट द्वारा हर आयु की महिलाओं के मंदिर के प्रवेश पर लगी पाबंदी हटाने के फैसला के बाद पहली बार मंदिर के कपाट खुले हैं। हालांकि कोर्ट के फैसले के बावजूद महिलाओं के मंदिर में प्रवेश को रोकने की कोशिश की जा रही है। कोर्ट के फैसले के चलते हर उम्र की महिला श्रद्धालु भगवान अयप्पा के दर्शन के लिए मंदिर परिसर में जुटने लगी हैं। वहीं, दूसरी ओर वो लोग भी वहां डेरा जमाए बैठे हैं, जो महिलाओं के प्रवेश के सख्त खिलाफ है। इस बीच मंदिर परिसर के बाहर विरोध-प्रदर्शन और तनाव के मद्देनजर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए। 800 पुरुष और 200 महिलाओं सहित एक हजार सुरक्षाकर्मियों को निलेक्कल और पंपा बेस कैंप पर तैनात किया गया था। 500 सुरक्षाकर्मियों को सन्निधानम में तैनात किया गया था। 

whatsapp mail