अकबर ने अपना पक्ष रख दिया है, पार्टी की सहमति या असहमति मुद्दा नहीं: भाजपा

img

नयी दिल्ली
केंद्रीय मंत्री एम जे अकबर के खिलाफ यौन उत्पीड़न के आरोपों पर अपनी पहली टिप्पणी में भाजपा ने सोमवार को कहा कि उन्होंने इस विवाद पर अपना पक्ष रख दिया है और मुद्दा यह नहीं है कि पार्टी उनसे सहमत है या असहमत। भाजपा प्रवक्ता जी वी एल नरसिम्हा राव से प्रेस कांफ्रेंस में पूछा गया था कि क्या सत्ताधारी पार्टी कई महिलाओं की ओर से अकबर के खिलाफ लगाए गए आरोपों पर उनके बयान से सहमत है। राव ने कहा, ‘‘मामला सहमत या असहमत होने का नहीं है। उन्होंने अपना पक्ष सामने रख दिया है। विदेश राज्य मंत्री अकबर ने रविवार को अपने खिलाफ लगे आरोपों को ‘‘गलत, मनगढ़ंत और आधारहीन’’ करार दिया और कहा कि वह आरोप लगाने वालों के खिलाफ उचित कानूनी कार्रवाई कर रहे हैं। अकबर के इस्तीफे की बढ़ती मांग के बीच भाजपा के नेताओं एवं प्रवक्ताओं ने अब तक इस मुद्दे पर चुप्पी साध रखी थी। कुछ महिला केंद्रीय मंत्रियों ने ‘मीटू’ मुहिम का समर्थन किया है। इस मुहिम के तहत विभिन्न क्षेत्रों की महिलाएं सामने आकर यौन उत्पीड़न के अपने अनुभव साझा कर रही हैं।

whatsapp mail