लोकसभा चुनाव के लिए दक्षिण भारत में बीजेपी ने खेला दाव, जीतेगी 50 सीट

img

नई दिल्ली
लोकसभा चुनाव में दक्षिण भारत से 50 सीटें जीतने का लक्ष्य लेकर चल रही भारतीय जनता पार्टी के महासचिव मुरलीधर राव ने कहा कि कर्नाटक में पार्टी को मजबूती देने के साथ हम पूर्वोत्तर की तर्ज पर छोटे छोटे दलों को जोड़कर दक्षिण के राज्यों में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) को आकार देने में जुटे हैं। मुरलीधर राव ने कहा, दक्षिण भारत में पार्टी को मजबूत बनाना एक चुनौती रहा है। हमारा प्रदर्शन पिछले दशकों में कर्नाटक में अच्छा रहा है। पहले हम वहां सत्ता में रह चुके हैं और विधानसभा चुनाव में कर्नाटक में भाजपा सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी है। दक्षिण के दूसरे राज्यों में पार्टी का तेजी से विस्तार हो रहा है। हम गांव तक पहुंचने में सफल रहे हैं। उन्होंने कहा कि हमारा प्रयास है कि पार्टी की विचारधारा और राजनीतिक संवाद को दक्षिण भारत के परिवेश एवं परिदृश्य के अनुरूप लोगों के स्वीकार्य रूप में पेश किया जाए। उन्होंने कहा कि इसमें पार्टी सफल भी हो रही है। कर्नाटक में भाजपा ने 22 से अधिक सीट जीतने का लक्ष्य निर्धारित किया है, हालांकि राज्य में कांग्रेस और जदएस गठबंधन की ओर से उसकी योजना को चुनौती भी मिल रही है। इस गठबंधन के कारण ही भाजपा को कर्नाटक विधानसभा चुनाव में बहुमत से कुछ सीट कम मिली और सत्ता उसके हाथ से फिसल गई थी। पार्टी को हालांकि विश्वास है कि लोकसभा चुनाव में उसे बड़ी जीत मिलेगी। राव ने कहा, '' कर्नाटक में कांग्रेस..जदएस गठबंधन सरकार नहीं चल पा रही है, रोज रोज दोनों दलों के झगड़े सामने आ रहे हैं। राज्य की जनता सब कुछ देख सुन रही है कि किस प्रकार से मुख्यमंत्री कुमारस्वामी बार बार पद छोडऩे की बात कह रहे हैं। भाजपा महासचिव ने कहा, '' कर्नाटक में यही (कांग्रेस-जदएस कलह) हमारा बड़ा मुद्दा है। हम जनता के समक्ष इन सभी विषयों को बतायेंगे। राज्य में लोकसभा चुनाव में हमें बड़ी जीत मिलेगी।

whatsapp mail