मोदी को हटाने के लिए कांग्रेस ने पाक से मदद मांगी : रक्षा मंत्री

img

रक्षा मंत्री ने बालाकोट हमले से लेकर राष्ट्रपति को पूर्व सैनिकों के पत्र पर भी बयान दिए

नई दिल्ली
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने हाल ही में कहा था कि कश्मीर मुद्दा सुलझाने के लिए भारत में मोदी की भाजपा का चुनाव जीतना जरूरी है। अब उनकी इस बात का जवाब रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने दिया है। न्यूज एजेंसी एएनआई को दिए इंटरव्यू में सीतारमण ने कहा कि ऐसे बयान चुनाव के दौरान आते रहते हैं। कांग्रेस के कई नेता मोदी को हटाने के लिए पाक से मदद मांगने पहुंचे हैं। मुझे लगता है कि इमरान से बयान दिलवाना भी कांग्रेस की ही योजना का हिस्सा है। सीतारमण ने पाक के विदेश मंत्री शाह महमूद कुरैशी के उस बयान को भी खारिज किया, जिसमें उन्होंने दावा किया था कि भारत 16-20 अप्रैल के बीच हमला कर सकता है। रक्षा मंत्री ने कहा, ''मैं नहीं जानती कि उन्हें यह तारीखें कहां से मिलीं, इसलिए उन्हें शुभकामनाएं। पता नहीं यह क्या था, लेकिन सुनने में यह काफी दिलचस्प और काल्पनिक किस्म का लगा।

राजनीतिक बयानबाजी में सीमा की समझ जरूरी
राजनीति में महिलाओं के खिलाफ आपत्तिजनक भाषा इस्तेमाल किए जाने के सवाल पर सीतारमण ने कहा, मेरा मानना है कि विचारधारा पर चर्चा करते हुए हम दृढ और कठोर हो सकते हैं। लेकिन अंत में हमें एक दूसरे की इज्जत का ख्याल रखना होगा और इस सीमा को समझना होगा। जब हम राजनीति की बातें कर रहे हों तो यह दिमाग में रखना जरूरी है कि हम आने वाली पीढ़ी के लिए क्या विरासत छोड़ रहे हैं।

बालाकोट हमले पर किसी देश ने हमसे सवाल नहीं किए
बालाकोट हमले पर अंतरराष्ट्रीय मीडिया की प्रतिक्रिया पर रक्षा मंत्री ने कहा कि अब तक किसी भी देश ने सवाल नहीं खड़े किए और न ही यह कह कर समर्थन पीछे खींचा कि आपके दावे प्रमाणिक नहीं हैं? क्योंकि किसी भी सूरत में वो हम नहीं थे जिसने हमले का दावा किया था, बल्कि पाकिस्तानियों ने खुद ही बालाकोट हमले की बात दुनिया को बताई थी।

whatsapp mail