5 साल में पहली बार की प्रेस कॉन्फ्रेंस, मोदी ने अपनी बात रखी पर नहीं दिए सवालों के जवाब

img

नई दिल्ली
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने पांच साल के कार्यकाल में पहली बार प्रेस कॉन्फ्रेंस की। पीसी की शुरुआत करते हुए सबसे पहले उन्होंने कहा कि मैं आपके ही साथ चाय पीता था। इसके बाद प्रधानमंत्री ने कहा एक बार फिर से पूर्ण बहुमत की सरकार बनने जा रही है। जनता ने भाजपा की सरकार का बनाने का मन बना लिया है। करीब 10 मिनट तक पीएम ने मीडिया के सामने अपनी बात रखी, लेकिन किसी सवाल का जवाब दिए बिना ही वह चले गए। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा कि देश में आज चुनाव, आईपीएल और रमजान साथ-साथ हो रहे हैं। लेकिन, 2009 और 2014 में कमजोर सरकार के कारण आईपीएल को बाहर करना पड़ा। पीएम ने कहा कि 16 मई को पिछली बार रिजल्ट आया था और 17 मई को एक दुर्घटना हुई थी। 17 मई को सट्टाखोरों को मोदी की हाजिरी का बड़ा नुकसान हुआ था। सट्टा लगाने वाले तब सब डूब गये थे, यानी ईमानदारी की शुरुआत 17 मई को हो गई थी।उन्होंने कहा कि जब मैं चुनाव के लिए निकला तो मन बनाकर निकला था और अपने को उसी धार पर रखा। मैंने देशवासियों से कहा था कि 5 साल मुझे देश ने जो आशीर्वाद दिया, उसके लिए मैं धन्यवाद देने आया हूं। अनेक उतार चढ़ाव आए, लेकिन देश साथ रहा। मेरे लिए यह चुनाव जनता को धन्यवाद ज्ञापन था। प्रधानमंत्री ने कहा कि मैं मानता हूं कि कुछ बातें हम गर्व के साथ दुनिया से कह सकते हैं। ये दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है। ये लोकत्रंत की ताकत दुनिया के सामने ले जाना हम सबका दायित्व है। हमें विश्व को प्रभावित करना चाहिए कि हमारा लोकतंत्र कितनी विविधताओं से भरा है।

whatsapp mail