बालाकोट के समय यदि राफेल होता तो परिणाम और भी बेहतर होते : धनोआ

img

नई दिल्ली
वायुसेना प्रमुख बी एस धनोआ ने सोमवार को कहा कि बालाकोट हवाई हमलों में तकनीक भारत के पक्ष में थी और यदि समय पर राफेल लड़ाकू विमान मिल जाते तो परिणाम देश के और अधिक पक्ष में होते। वह भविष्य की एयरोस्पेस शक्ति और प्रौद्योगिकी के प्रभाव पर एक संगोष्ठी को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा, बालाकोट अभियान में, हमारे पास प्रौद्योगिकी थी और हम बड़ी सटीकता के साथ हथियारों का इस्तेमाल कर सके। बाद में हम बेहतर हुए हैं क्योंकि हमने अपने मिग-21, बाइसन और मिराज-2000 विमानों को उन्नत बनाया था। धनोआ ने कहा, यदि हमने समय पर राफेल विमान को शामिल कर लिया होता तो परिणाम हमारे पक्ष में और अधिक हो जाते।

whatsapp mail