सैनिकों की हत्या करने वाले देश से कोई शांति वार्ता नहीं : अमित शाह

img

नई दिल्ली
भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने कहा है कि हम ऐसे देश से किसी तरह की शांतिवार्ता के पक्ष में नहीं है, जो हमारे सैनिकों की हत्या करता है। तेलंगाना के शमशाबाद में मंगवार को एक चुनावी रैली के दौरान अमित शाह ने कहा कि आतंकवाद के मुद्दे पर हमारी सरकार का रुख एकदम स्पष्ट है। हमने पाकिस्तान में चल रहे आतंकी ठिकानों पर 2016 में सर्जिकल स्ट्राइक और इस साल एयर स्ट्राइक कर अपना रुख पूरी दुनिया के सामने स्पष्ट कर दिया है। रैली को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा कि नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार ऐसे किसी देश से शांतिवार्ता के पक्ष में नहीं है जो हमारे देश के सैनिकों की हत्या में शामिल हो। अमित शाह ने कहा कि पुलवामा आतंकी हमले में पाकिस्तान समर्थित आतंकवादी संगठन ने सीआरपीएफ के 40 जवानों पर आत्मघाती हमला कर उन्हें शहीद कर दिया। इसके बाद हर कोई भौचक्का था कि अब क्या किया जा सकता है। लोग एक और सर्जिकल स्ट्राइक का अंदाजा लगा रहे थे। पाकिस्तान ने तो अपनी सीमाओं पर डर की वह से टैंक तैनात कर दिए थे। ऐसे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार ने अलग तरह से जवाब देने का फैसला लिया। इस बार बालाकोट पाकिस्तान में चल रहे आतंकी शिविरों पर भारतीय वायुसेना ने बेहतरीन रणनीति के साथ एयर स्ट्राइक कर मुंहतोड़ जवाब दिया। पाकिस्तान में एयर स्ट्राइक के बाद पूरे देश में जश्न मनाया गया। इस घटना को लेकर केवल दो जगहों पर शोक का माहौल था, पहला पाकिस्तान और दूसरा राहुल गांधी खेमे में।

whatsapp mail