देश में 2035 तक एयरपोर्ट की संख्या होगी 200

img

नई दिल्ली
भारत में विमानन क्षेत्र तेजी से पांव पसार रहा है। इस क्षेत्र में अगर ऐसी ही रफ्तार बरकरार रही तो वर्ष 2035 तक देश में एयरपोर्ट की संख्या 200 हो जाएगी। इसके लिए केन्द्र सरकार ने 15 वर्षों की कार्ययोजना तैयार की है। हालांकि सरकार की सबसे बड़ी चिंता इस क्षेत्र में विस्तार के साथ, इसकी सुरक्षा व्यवस्था को और पुख्ता करने पर है। केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल की ओर से विज्ञान भवन में आयोजित अंतरराष्ट्रीय विमानन सुरक्षा संगोष्ठी आयोजित की गई। दो दिवसीय इस आयोजन में यह निर्णय लिया गया कि विमान क्षेत्र की बेहतर सुरक्षा के साथ ही इसमें नई तकनीक का प्रयोग किया जाए। समापन अवसर पर मुख्य अतिथि के तौर पर केंद्रीय वाणिज्य एवं उद्योग और नागरिक उड्डयन मंत्री सुरेश प्रभु सहित नागर विमानन राज्य मंत्री जयंत सिन्हा ने शिरकत की। जयंत सिन्हा ने कहा कि इस क्षेत्र के समुचित विकास के लिए सरकार अगले 15 वर्ष की योजना तैयार कर रही है। 2035 तक देश में एयरपोर्ट की संख्या 200 तक हो जाएगी। इन एयरपोर्ट और विमानों की सुरक्षा के लिए उन्नत प्रौद्योगिकी के प्रयोग की जरूरत होगी। यह निवेशकों के लिए भी एक बड़ा अवसर पैदा करेगा। 

whatsapp mail