पित्रोदा मोदी बोले - 130 करोड़ भारतीय माफ नहीं करेंगे

img

  • कांग्रेस नेता पित्रोदा ने कहा- मैं जानना चाहता हूं कि क्या वाकई भारत की तरफ से हमला हुआ था या नहीं
  • 'मैं एक गांधीवादी, पाकिस्तान से बात किए जाने के पक्ष में'
  • जेटली ने कहा- अगर गुरु इतना खराब हो तो उनका शिष्य कितना निकम्मा होगा

नई दिल्ली
इंडियन ओवरसीज कांग्रेस के प्रमुख सैम पित्रोदा ने एयर स्ट्राइक पर सवाल उठाए हैं। न्यूज एजेंसी को दिए एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि अगर आप (सरकार) कहते हैं कि 300 लोग मारे गए तो इसके बारे में सबूत दें। यह केवल मैं नहीं बल्कि पूरा देश जानना चाहता है। मैंने न्यूयॉर्क टाइम्स समेत कई अखबारों में रिपोर्ट्स पढ़ीं कि भारत के हमले में कोई नहीं मारा गया। मैं जानना चाहता हूं कि क्या वाकई में कोई हमला हुआ था? क्या सही में 300 लोग मारे गए? एक नागरिक होने के नाते मुझे यह जानने का हक है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि विपक्ष लगातार हमारी फौजों का अपमान कर रहा है। देश उन्हें माफ नहीं करेगा। भारत के लड़ाकू विमानों ने 26 फरवरी को पाक सीमा में मुजफ्फराबाद, चकोटी और बालाकोट में आतंकी ठिकानों को तबाह किया था। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, हमले में 350 आतंकी मारे गए थे। पित्रोदा के आरोपों पर मोदी ने ट्वीट किया, विपक्ष लगातार हमारी फौजों का अपमान कर रहा है। मैं सभी भारतीयों से अपील करता हूं कि विपक्ष के बयानों पर सवाल उठाएं। 130 करोड़ भारतीय विपक्ष को उनकी हरकतों के लिए माफ नहीं करेंगे। पूरा भारत सेनाओं के साथ मजबूती से खड़ा है। कांग्रेस अध्यक्ष के सबसे भरोसेमंद सलाहकार और मार्गदर्शक का बयान पाकिस्तान के राष्ट्रीय दिवस के मौके पर आया है। उन्होंने जो कहा, वह कांग्रेस की तरफ से ही कहा है। कांग्रेस राजपरिवार के वफादार ने मान लिया है कि उनकी पार्टी की आतंकियों को जवाब देने में दिलचस्पी नहीं थी। यह नया भारत है। हम आतंकियों को उसी भाषा में जवाब देते हैं जो उनकी समझ में आती है। मोदी ने यह भी कहा, वरिष्ठ नेता रामगोपाल यादव जी ने उन सब जवानों का अपमान किया जिन्होंने कश्मीर को बचाने के लिए जान दे दी। यह शहीदों के परिवारों का अपमान है।

जेटली बोले- आज पाकिस्तान में पित्रोदा की जबर्दस्त टीआरपी होगी
अरुण जेटली ने कहा, ''देश की भावनाओं को नहीं समझने वाले ही ऐसे बयान दे सकते हैं। दुनिया के किसी देश ने सर्जिकल और एयर स्ट्राइक की निंदा नहीं की। हमने आम नागरिकों को टारगेट नहीं किया। पित्रोदा ने जो कहा, वहीं बातें पाकिस्तान कहता है। एक पार्टी में पाकिस्तान के समर्थन में बयान देने वाले नेता हैं, तो यह देश का दुर्भाग्य है।''मैच कभी बैकफुट पर नहीं, फ्रंटफुट पर आकर ही जीता जाता है। आज हम आतंकियों के खिलाफ निर्णायक कार्रवाई कर रहे हैं। मैं कहना चाहता हूं कि अगर गुरु इतना खराब हो तो उनका शिष्य कितना निकम्मा होगा। न तो उन्होंने (विपक्ष) ने सर्जिकल स्ट्राइक का समर्थन किया और न ही एयर स्ट्राइक का। यह पहला मौका नहीं है जब कांग्रेस के किसी बड़े नेता ने ऐसा बयान दिया हो। मुझे उम्मीद है कि पाकिस्तान मीडिया में आज पित्रोदा की टीआरपी हाई होगी।''

'बातचीत बेहतर रास्ता'
पित्रोदा 2019 लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस के घोषणापत्र तैयार करने वाली समिति में हैं। उन्होंने कहा कि मैं एक गांधीवादी हूं और पाकिस्तान से बात किए जाने के पक्ष में हूं। मेरा विश्वास है कि सबके साथ सम्मान से पेश आना चाहिए। अकेले पाकिस्तान ही क्यों, दुनिया में सबके साथ बातचीत से ही मसले सुलझाना चाहिए। पित्रोदा ने यह भी कहा- यह मानना आसान होता है कि कुछ लोग हमारे यहां (पाक की तरफ से) आए और उन्होंने हमला कर दिया। उस देश के हर व्यक्ति को दोष दिया जा रहा है। मैं पुलवामा हमले के बारे में ज्यादा नहीं जानता। इस तरह के हमले हर वक्त होते रहे हैं। तब भी हमने लड़ाकू विमानों से जवाबी कार्रवाई थी, लेकिन मेरे हिसाब से यह सही तरीका नहीं है। 8 लोगों ने मुंबई में आतंकी हमले को अंजाम दिया, लेकिन हम पूरे पाक पर दोषारोपण करने लगते हैं।

'भावुक होकर आंकड़े नहीं दिए जाते'
पित्रोदा के मुताबिक- कोई भी आंकड़ा भावुक होकर नहीं दिया जाता। आप सामने आकर कहते हैं कि हमने 300 मारे। मैं कहता हूं कि एक मिनट रुकिए। कार्रवाई में कोई मारा गया या कम मारे गए या ज्यादा मारे गए, मैं नहीं जानता। मैं एक व्यक्ति और वैज्ञानिक के रूप में बात कर रहा हूं। मैं कारणों, तर्कों और आंकड़ों पर भरोसा करता हूं। उधर, समाजवादी पार्टी के महासचिव रामगोपाल यादव ने बुधवार को पुलवामा हमले को साजिश करार दिया था। उन्होंने कहा- पैरा मिलिट्री फोर्सेस इस सरकार (भाजपा सरकार) में दुखी हैं। वोट की खातिर जवान मार दिए गए। जब सरकार बदलेगी तब इस प्रकरण की जांच होगी और बड़े-बड़े लोग फंसेंगे।

whatsapp mail