रोहित शेखर की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत

img

नई दिल्ली
उत्तराखंड और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत नारायण दत्त तिवारी के बेटे रोहित शेखर की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत की खबर है। मौत की वजह का अभी पता नहीं चल पाया है। नई दिल्ली के साकेत मैक्स के डॉक्टरों ने उसे शाम 5.50 बजे मृत घोषित कर दिया। साउथ दिल्ली के डीसीपी विजय कुमार ने इसकी पुष्टि करते हुए कहा कि एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर तिवारी को साकेत स्थित मैक्स हॉस्पिटल में लाया गया जहां उन्हें मृत घोषित किया गया। गौरतलब है कि पिछले साल 18 अक्टूबर को नारायण दत्त तिवारी का भी निधन हो गया था। इसी दिन उनका जन्मदिन भी था। एनडी तिवारी का पारिवारिक जीवन भी विवादों से घिरा था। तिवारी ने 1954 में सुशीला तिवारी से विवाह किया था और 14 मई 2014 को उज्ज्वला तिवारी से 88 साल की आयु में शादी की थी।रोहित शेखर ने दावा किया था कि एनडी तिवारी उनके जैविक पिता हैं और इसे साबित करने के लिए उन्होंने साल 2008 में कोर्ट में मुकदमा दायर किया था, जिसपर कोर्ट ने डीएनए टेस्ट कराने का आदेश दिया था। 

डीेएनए सैंपल देने से जब किया इनकार
पहले तो एनडी तिवारी ने डीएनए टेस्ट के लिए सैंपल देने से इनकार कर दिया था। बाद में उन्होंने कोर्ट के आदेश को मानते हुए कानूनी रूप से रोहित को अपना बेटा माना था और संपत्ति का वारिस बनाया। 

whatsapp mail