आयकर रिटर्न भरने के लिए पैन को आधार से लिंक करना जरूरी : सुप्रीम कोर्ट

img

नई दिल्ली
आयकर रिटर्न दाखिल करने के लिए पैन से आधार को लिंक करना अनिवार्य होगा। असेसमेंट ईयर 2019-20 से यह व्यवस्था लागू होगी। सुप्रीम कोर्ट ने इस आशय का निर्देश दिया है। न्यायमूर्ति जस्टिस ए के सीकरी और एस अब्दुल नजीर की पीठ ने कहा कि शीर्ष अदालत पहले ही इस मामले को तय कर चुकी है। अदालत ने आयकर कानून की धारा 139एए को वैध करार दिया था। सुप्रीम कोर्ट ने यह निर्देश केंद्र की उस अपील पर दिया है जिसमें सरकार ने दिल्ली उच्च न्यायालय द्वारा दो व्यक्तियों श्रेया सेन और जयश्री सतपुते को आधार को पैन से लिंक किए बगैर ही 2018-19 का आयकर रिटर्न दाखिल करने की अनुमति दी थी। सुप्रीम कोर्ट की पीठ ने कहा कि उच्च न्यायालय ने उस मामले में उक्त आदेश इस बात के मद्देनजर दिया था कि यह मामला इस अदालत में लंबित है। इसके बाद शीर्ष अदालत ने उस मामले में फैसला देते हुए आयकर कानून की धारा 139एए के प्रावधानों के सही ठहराया है। इन तथ्यों के मद्देनजर आधार को पैन से लिंक करना अनिवार्य है। अदालत ने कहा कि असेसमेंट ईयर 2018-19 के लिए उन दोनों व्यक्तियों ने आयकर रिटर्न दाखिल कर दिए हैं और उनका असेसमेंट भी हो चुका है। इसलिए असेसमेंट ईयर 2019-20 से आयकर रिटर्न सुप्रीम कोर्ट के आदेश के अनुसार ही दाखिल होने चाहिए।गौरतलब है कि उन दोनों याचिकाकर्ताओं ने दिल्ली उच्च न्यायालय के समक्ष यह कहते हुए गुहार लगायी थी कि आयकर रिटर्न ई-फाइल करते समय आधार नंबर या आधार नामांकन संख्या भरे बगैर रिटर्न दाखिल करने की कोई व्यवस्था नहीं है, इसलिए वे रिटर्न दाखिल नहीं कर पा रहे हैं। इसके बाद ही उच्च न्यायालय ने उन्हें राहत दी थी। सुप्रीम कोर्ट ने 26 सितंबर 2018 को केंद्र की आधार योजना को संवैधानिक करार दिया था हालांकि आधार को बैंक खाते, मोबाइल फोन और स्कूलों में दाखिल के लिए अनिवार्य बनाने के प्रावधानों को खारिज कर दिया था। सुप्रीम कोर्ट ने यह भी कहा था कि आधार आयकर रिटर्न दाखिल करने और पैन नंबर प्राप्त करने के लिए अनिवार्य बना रहेगा। पीठ ने कहा कि उच्च न्यायालय ने इस तथ्य के मद्देनजर यह आदेश दिया था कि मामला शीर्ष अदालत में विचारार्थ लंबित है। इसके बाद, चूंकि शीर्ष अदालत ने इस मामले में पिछले साल 26 सितंबर को फैसला सुना दिया और आयकर कानून की धारा 139एए को बरकरार रखा है। इसलिए पैन नंबर को आधार से जोडऩा अनिवार्य है।

whatsapp mail