सिलिकॉन वैली यात्रा में तकनीकी ज्ञान विकास व उद्यमिता के गुर सीख रहे हैं राजस्थान के युवा छात्र

img

नई दिल्ली
राजस्थान के सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग द्वारा संयुक्त राज्य अमेरिका के 15 दिवसीय अध्ययन टूर पर भेजा गया प्रदेश के 91चयनित स्टार्टअप छात्रों का दल सिलिकॉन वैली यात्रा में दुनिया की विभिन्न जानी मानी संस्थाओं में एक्सपर्ट गुरुओं से तकनीकी गुर सीख रहा है। राजस्थान के युवा छात्रो का दल राज्य सरकार के स्टूडेंट स्टार्टअप एक्सपोजऱ प्रोग्राम के तीसरे दिन सिलिकॉन वैली में एप्पल के क्यूपर्टिनो हेडक्वार्टर पहुंचा। युवाओं ने एप्पल की सभी तकनीकों को जानने के साथ ही अत्याधुनिक ऑगमेंटेड रियलिटी इनफिनिट लूप तथा एप्पल सेंटर को भी देखा। दल के साथ गई सूचना प्रौद्योगिकी विभाग की अधिकारी सुश्री विनीता श्रीवास्तव ने बताया कि  युवाओं ने सिलिकॉन वैली नार्थ ईस्टर्न यूनिवर्सिटी का दौरा भी किया, जहां यूनिवर्सिटी के डीन व सीईओ श्री पी के अग्रवाल ने युवाओं को तकनीक और आने वाले पांच सालों में दुनिया में होने वाले बदलाव पर वृहद् चर्चा की। इसके पश्चात, युवाओं ने ई जेड डी आईं  के संस्थापक श्री चेतन पारेख से उद्यमिता के गुर सीखे। उन्होंने बताया कि पहले दो दिनों में युवा विश्वप्रसिद्ध स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी व 42 सिलिकॉन वैली कोडिंग स्कूल का भ्रमण कर आर्टिफिशल इंटेलिजेंस, नैनो फेब्रिकेशन रिसर्च, एडवांस्ड टीचिंग, एडवांस्ड कंप्यूटर इंजीनियरिंग इत्यादि के बारे में सीखा है। राजस्थान के सूचना प्रौद्योगिकी एवं संचार विभाग  के प्रमुख सचिव अखिल अरोड़ा ने बताया कि मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे के नेतृत्व में पिछले 4 वर्षों में राजस्थान भारत के स्टार्टअप लीडर के रूप में उभर कर आगे आया है। साथ ही स्टूडेंट स्टार्टअप एक्सपोजऱ प्रोग्राम लागू कर राजस्थान संपूर्ण विश्व के समक्ष एक उदाहरण बन गया है। विभाग ने युवा उद्यमियों को बढ़ावा देने के लिए स्टूडेंट स्टार्टअप एक्सपोजऱ प्रोग्राम लागू किया है। इस एक्सपोजऱ प्रोग्राम के तहत, सम्पूर्ण राज्य से छात्रों का चयन कर सरकार ने 91 लोगों का दल सिलिकॉन वैली (यूएसए) में दो सप्ताह के टूर पर भेजा है। जिसका संपूर्ण खर्च राजस्थान सरकार वहन कर रही है। कार्यक्रम के तहत सभी छात्र 26 अगस्त से 10 सितंबर, 2018 तक सिलिकॉन वैली विजि़ट कर स्टार्टअप के गुर सीख रहे हैं। उल्लेखनीय है किमई 2018 में शुरू किये गए स्टूडेंट स्टार्टअप एक्सपोजऱ प्रोग्राम को राज्य के सभी कॉलेजों से ज़बरदस्त प्रतिक्रिया मिली। कार्यक्रम के लिए 20,000 से अधिक आवेदन प्राप्त हुए जिनमे से 91 छात्रों का चयन किया गया। इन दो हफ्तों के दौरान, छात्रों को प्रसिद्ध विशेषज्ञों के साथ स्टार्टअप के तकनीकी पहलुओं पर डिस्कशन करने का मौका मिलेगा। साथ ही, इस दौरान इन्वेस्टर्स मीटिंग्स का आयोजन भी किया जायेगा, जिनमे प्रतिभागियों को अपने आइडियाज़ पिच करने का अवसर मिलेगा। दो सप्ताह के इस कार्यक्रम के तहत, चयनित छात्रों को तीन महीने का ऑनलाइन शिक्षण पाठ्यक्रम प्राप्त करने का अवसर भी दिया जायेगा। उन्होंने बताया कि राजस्थान सरकार ने युवा एंटरप्रेन्योर्स को प्रोत्साहित करने और उन्हें अंतरराष्ट्रीय स्तर पर एक मंच प्रदान करने की अद्भुत पहल इस कार्यक्रम द्वारा की गयी है, जिसे सम्पूर्ण देश तथा सिलिकॉन वैली में भी बेहद सराहा जा रहा है। मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे द्वारा राजस्थान को तकनीकी क्षेत्र में विश्व में सर्वश्रेष्ठ बनाने के सपने को आगे ले जाने की कड़ी में युवा छात्र छात्राओं की यह यात्रा मील का पत्थर साबित होगी।

whatsapp mail