कांग्रेस ने ज्योति पर ही खेला दांव, अब हनुमान बेनीवाल उठा सकते है कोई और कदम

img

नागौर
सबसे चर्चित नागौर लोकसभा सीट से कांग्रेस ने मिर्धा परिवार की डॉ ज्योति मिर्धा को टिकट दिया गया हैं। हालांकि ज्योति के टिकट को लेकर विधानसभा चुनाव के बाद से ही अटकलेें लगाई जा रही थीं, लेकिन होली से पहले जिले के कुछ विधायकों व कांग्रेस नेताओं के विरोध के बाद स्थिति बदली और प्रदेश कांग्रेस ने विधायक हनुमान बेनीवाल की पार्टी रालोपा के साथ गठबंधन के संकेत दिए। इसके चलते ज्योति मिर्धा ने पाला बदलने की तैयारी कर ली। ज्योति मिर्धा का पलड़ा भारी होने होने लगा तो कांग्रेस आलाकमान के एक बार फिर निर्णय पर विचार करते हुए दो दिन पूर्व उन्हें वापस बुलाया। उधर, अविनाश पांडे ने बुधवार को एक बयान जारी कर गठबंधन की अटकलों पर विराम लगा दिया कि राजस्थान में कांग्रेस सभी 25 सीटों पर चुनाव लड़ेंगी। पिछले चुनाव में कांग्रेस उम्मीदवार ज्योति मिर्धा का खेल बिगाडऩे वाले खींवसर विधायक हनुमान बेनीवाल का इस बार क्या स्टैंड रहेगा, इस पर सबकी निगाहें हैं। नागौर सीट से ज्योति मिर्धा के नाम पर मुहर लगने के बाद क्या हनुमान बेनीवाल रालोपा से कोई उम्मीदवार उतारेंगे।
या पर्दे के पीछे रहकर कांग्रेस-भाजपा की हार-जीत के समीकरण तय करेंगे। गौरतलब है कि दो दिन पूर्व नागौर आए हनुमान बेनीवाल ने मीडिया से बात करते हुए कहा था कि रालोपा किसान और जवान की पार्टी है और लोकसभा में मजबूती से लड़ेगी।

whatsapp mail