केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन और मंगल पांडे के खिलाफ परिवाद दायर, स्वास्थ्य सेवाओं में लापरवाही का आरोप

img

इस मामले में सीजेएम कोर्ट में 24 जून को होगी सुनवाई

मुजफ्फरपुर
केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन और बिहार सरकार में स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे के खिलाफ मुजफ्फरपुर सीजेएम कोर्ट में परिवाद दायर किया गया। बिहार में एक्यूट इंसेफेलाइटिस सिंड्रोम (मस्तिष्क ज्वर) से हो रही बच्चों की मौत को लेकर सामाजिक कार्यकर्ता तमन्ना हाशमी ने परिवार दायर किया। आरोप है कि एईएस को लेकर सरकार ने जागरुकता नहीं फैलाई। इस मामले की सुनवाई 24 जून को होगी। डॉ. हर्षवर्धन और अश्विनी चौबे ने रविवार को मुजफ्फरपुर आकर हालात का जायजा लिया था। तमन्ना हाशमी ने आवेदन में लिखा है कि जागरुकता अभियान नहीं चलाने की वजह से मस्तिष्क ज्वर से बच्चों की मौत हुई। इस बीमारी से हर साल बच्चों की मौत होती है। लेकिन, इसके बाद भी आज तक इस पर कोई शोध नहीं हुआ। सरकार की लापरवाही की वजह से बच्चों की जान जा रही है। सरकार की तरफ से किए जा रहे सारे दावे हवा-हवाई हैं

whatsapp mail