उमर बोले- फैक्स मशीन से हुई लोकतंत्र की हत्या

img

श्रीनगर
जम्मू-कश्मीर में विधानसभा भंग होने के बाद सियासी दंगल शुरू हो गया। नैशनल कॉन्फ्रेंस ने राज्यपाल के कदम को राज्य के खिलाफ साजिश बताते हुए आरोप लगाया कि कश्मीर में सांप्रदायिक माहौल बनाने की कोशिश की जा रही है। एनसी ने कहा कि राज्यपाल भवन की फैक्स मशीन ने सूबे में लोकतंत्र का गला घोंट दिया। एनसी नेता और राज्य के पूर्व सीएम उमर अब्दुल्ला ने गुरुवार को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा, नुकसान के बावजूद हम पीडीपी के साथ मिलकर सरकार बनाने को राजी हो गए थे। आज हम अपने विधायकों के साथ राज्यपाल भवन की फैक्स मशीन पर तंज कसते हुए उमर ने कहा कि यह फैक्स मशीन वन वे है। उन्होंने कहा, पीडीपी की चिट्ठी राजभवन पहुंची ही नहीं। फैक्स मशीन ने लोकतंत्र का कत्ल किया है। राज्य के खिलाफ साजिश का आरोप लगाते हुए उमर ने कहा, राज्य को साजिशों का खामियाजा भुगतना पड़ रहा है। राज्य में बदलते हालात से लोग परेशान हैं। जब पीडीपी की सरकार गिरी थी तभी हम राज्य में चुनाव चाहते थे। राज्यपाल सत्यपाल मलिक के विधायकों की खरीद फरोख्त वाले बयान पर उमर ने सवाल किया कि चूंकि राज्यपाल ने यह बात कही है तो उन्हें इसके बारे में सबूत पेश करने चाहिए। उन्होंने कहा, 'विधायकों को खरीदने का काम कौन कर रहा है। पैसे का इस्तेमाल कौन कर रहा है? इसके बारे में जानकारी दी जानी चाहिए।

whatsapp mail