ओडिशा में बाढ़ जैसे हालात, 19 जिलों में रेड अलर्ट; आंध्र में 5 लाख घरों में बिजली गुल

img

हैदराबाद
तितली चक्रवात के चलते ओडिशा में हुई तेज बारिश से कई जिलों में बाढ़ जैसे हालात हो गए हैं। गंजम, रायगाडा और गजपति का शेष राज्य से संपर्क टूट गया। मौसम विभाग ने 19 जिलों में भारी बारिश की आशंका जाहिर की है। यहां रेड अलर्ट जारी किया। उधर, आंध्रप्रदेश के श्रीकाकुलम में तूफान और तेज बारिश से बिजली के 7 हजार खंभे टूट गए, जिसके चलते 5 लाख से ज्यादा घरों में बिजली नहीं पहुंच पा रही है। ओडिशा के मुख्य सचिव आदित्य प्रसाद ने बताया कि गंजम जिले में रेस्क्यू के लिए नेवी के दो हेलिकॉप्टर तैनात किए गए हैं। मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने शुक्रवार को बैठक कर अफसरों से बाढ़ की स्थिति की जानकारी ली। पटनायक ने अफसरों से जल्द से जल्द बाढ़ प्रभावित इलाकों से लोगों का रेस्क्यू करने और बिजली और अन्य आपातकालीन सेवाएं उपलब्ध कराने का आदेश दिया। उन्होंने फसलों और घरों को हुए नुकसान की रिपोर्ट पेश सात दिन के भीतर करने को भी कहा। राज्य में दो से तीन लोगों के मारे जाने की भी खबर है। वनसाधरा, रुसिकुल्या और जलाका नदियां खतरे के निशान के ऊपर बह रही हैं। 
मौसम विभाग के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में ओडिशा के 16 ब्लॉक में 20-30 सेमी और 60 ब्लॉक में 10-20 सेमी बारिश रिकॉर्ड की गई। पूर्व तटीय रेलवे ने बारिश और जलभराव के चलते 16 ट्रेनों को रद्द कर दिया। 9 के रूट बदले गए हैं। आंध्रप्रदेश में श्रीकाकुलम जिला तितली से सबसे ज्यादा प्रभावित हुआ है। यहां 24 घंटे में 8 लोग जान गंवा चुके हैं। प्रशासन के मुताबिक, हजारों घर तबाह हो चुके हैं। रेस्क्यू का काम तेजी से चल रहा है। राहत सामग्री भेजने के लिए सोशल मीडिया का भी इस्तेमाल किया जा रहा है।

whatsapp mail