कुंभ : संगम स्नान को उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़, आंकड़ा डेढ़ करोड़ पहुंचा

img

प्रयागराज
संगमनगरी प्रयाग में शाही स्नान के साथ ही कुंभ 2019 विधिवत शुरू हो गया। संगम तट आज करीब डेढ़ करोड़ लोगों ने मकर संक्रांति पर स्नान किया। बड़ी संख्या में श्रद्धालु बीती रात से ही कुंभ नगरी में एकत्र थे। कुंभ के प्रथम शाही स्नान पर श्रद्धालुओं का पुण्य की डुबकी लगाने का क्रम शाम तक जारी रहा। कुंभ मेलाधिकारी विजय किरन आनंद ने बताया कि मकर संक्रांति स्नान रात्रि लगभग ढाई बजे शुभ मुहूर्त से शुरू हो गया था। अभी पांच स्नान पर्व शेष हैं। अगला स्नान पर्व 21 जनवरी को होगा। दरअसल, सूर्य उत्तरायण होने पर त्रिवेणी तट पर साध्य, साधना और साधक का अद्भुत संगम देखने को मिला। प्रथम शाही स्नान पर अखाड़ों में अनुशासन, परंपरा व समर्पण नजर आया। जनता-जनार्दन को अखाड़ों की भव्यता के साथ संस्कार व संस्कृति का दर्शन हुआ। अनुशासन के लिए हर अखाड़े के प्रमुख महात्मा सक्रिय रहे। हर अखाड़े के संतों ने सर्वप्रथम अपने आराध्य को डुबकी लगवाई, उसके बाद अस्त्र-शस्त्र और फिर खुद स्नान किया। संगम पर स्नानार्थियों का सैलाब उमड़ पड़ा। यह सैलाब आधी रात से ही संगम और विविध घाटों पर पहुंच गया था और शुभ मुहूर्त में ही डुबकी लगानी शुरू कर दी। कुंभ मेला का पहला शाही स्नान भी आज था जो शांतिपूर्वक निपटा। अखाड़ों के शाही स्नान का क्रम शाम तक चलता रहा। अखाड़ों के लिये अलग अलग समय स्नान के लिए निर्धारित किया गया है। हर अखाड़े के लिए करीब 40 मिनट का समय तय था। सब कुछ करीब-करीब निर्धारित समय के साथ ही चला।

whatsapp mail