जल्द होगा नक्सलवाद और माओवाद का सफाया : राजनाथ

img

लखनऊ
केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने रविवार को रैपिड एक्शन फोर्स के 26वें स्थापना दिवस के अवसर पर नक्सलवाद के सफाए की बात कही। उन्होंने कहा कि सीआरपीएफ ने कश्मीर में आतंकवाद को नियंत्रित करने के साथ ही पूर्वोत्तर राज्यों में माओवाद और नक्सलवाद पर नियंत्रण पाया है। नक्सलवाद जो कभी 126 जिलों में फैला था वह आज 10 से12 जिलों तक सिमट कर रह गया है। 2018 में सीआरपीएफ ने 131 नक्सलियों को मार गिराया और 1278 जिंदा पकड़े, जबकि 58 नक्सली आत्मसमर्पण के लिए मजबूर हुए। जल्द ही माओवाद और नक्सलवाद का सफाया होगा। केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की विशेष शाखा रैपिड एक्शन फोर्स (आरएएफ) का 26वां स्थापना दिवस रविवार को धूमधाम से मनाया गया। समारोह में केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने परेड की सलामी ली और 15 अधिकारियों और जवानों को वीरता पदक एवं दो को सराहनीय सेवा पदक देकर सम्मानित किया। इस दौरान गृहमंत्री ने कहा कि कश्मीर हमारा था, हमारा है और हमारा ही रहेगा। सीआरपीएफ के जवान दुश्मनों और आतंकवादियों के सामने जिस्म के खून से शौर्य की कहानी लिखते हैं। आरएएफ की सराहना करते हुए बोले, यह भारत की ऐसी फोर्स है जिसे बड़ी भीड़ को नियंत्रित करने के लिए कम जवानों का इस्तेमाल किया जाता है। कश्मीर के लोग हमारे हैं कश्मीर मसले पर गृहमंत्री ने कहा कि वहां के लोग भारत के अपने ही लोग हैं। इसलिए सीआरपीएफ़ को उनके बीच सूझबूझ के साथ काम करना होता है, लेकिन जब आतंकवाद की बात आती है तो सीआरपीएफ उसका कड़ा जवाब देती है। सीमा पर हो रहे हमलों पर उन्होंने कहा कि पाकिस्तान अपनी हरकतों से बाज नहीं आ रहा है।

whatsapp mail