कमिश्नर से पूछताछ से एक दिन पहले कोलकाता पुलिस ने पूर्व सीबीआई चीफ के खिलाफ छापे मारे

img

कोलकाता
पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार से पूछताछ से एक दिन पहले कोलकाता पुलिस ने शुक्रवार को बेहिसाब संपत्ति के मामले में सीबीआई के पूर्व अंतरिम चीफ नागेश्वर राव के ठिकानों पर छापे मारे। पुलिस ने जिन दो जगहों पर छापे मारे, उनमें से एक कोलकाता में है और दूसरी साल्ट लेक स्थित एंजेला मर्केंटाइल प्राइवेट लिमिटेड कंपनी का दफ्तर है। यह कंपनी राव की पत्नी की बताई जा रही है। 
हालांकि, राव ने कहा कि ये कार्रवाई प्रोपेगेंडा के तहत की गई। कंपनी से मेरा कोई संंबंध नहीं है। यह परिवारिक मित्र की है। राव ने सफाई में एक पत्र जारी किया। इसमें उन्होंने लिखा, 2010 में मेरी पत्नी मन्नेम संध्या ने मेसर्स एंजेला मर्केंटाइल प्राइवेट लिमिटेड से 25 लाख रुपए का लोन लिया था। इस रकम से आंध्र प्रदेश के गुंटूर में एक ज्वाइंट प्रॉपर्टी खरीदी। 2011 में मेरी पत्नी ने 11 से 17 एकड़ की पैतृक कृषि भूमि 58.62 लाख रुपए में बेची। यह रकम और बचत के 1.38 लाख रुपए मिलाकर करीब 60 लाख रुपए मेसर्स एंजेला मर्केंटाइल प्राइवेट लिमिटेड को ट्रांसफर किए गए। जुलाई 2014 में कंपनी ने इस पैसे के ब्याज को भी जोड़ा और उसमें से लोन अमाउंट घटाकर 41.33 लाख रुपए की रकम मेरी पत्नी को लौटा दी। इस लेनदेन से जुड़ी सारी जानकारी संबंधित एजेंसियों को दी गई थी। लिहाजा, बेहिसाब संपत्ति जुटाने का कोई सवाल ही नहीं उठता।

whatsapp mail